मुख्यपृष्ठनए समाचारदूध वाली चाय से कैंसर का खतरा! ...चीन ने किया कॉलेज के छात्रों...

दूध वाली चाय से कैंसर का खतरा! …चीन ने किया कॉलेज के छात्रों पर रिसर्च

• सामने आए चौंकानेवाले लक्षण
योगेंद्र सिंह ठाकुर / पालघर 
सुबह उठकर चाय पीना बहुत आम बात है, ऐसा माना जा सकता है कि लगभग ९० फीसदी लोग सुबह का नाश्ता चाय के साथ करते हैं। इसके अलावा इनमें से ऐसे भी बहुत लोग होंगे, जो शाम और रात में भी दूध की चाय पीने के शौकीन हैं। लेकिन ज्यादा चाय पीना हमारी हेल्थ के लिए भी खतरनाक हो सकता है। चौंकाने वाली बात ये है कि ज्यादा चाय पीने से कुछ तरह के कैंसर भी हो सकते हैं। हाल ही में दूध की चाय पीनेवालों पर रिसर्च किया गया, जिसमें चौंकाने वाले रिजल्ट सामने आए। इस रिसर्च में बताया गया है कि दूध की चाय का सेवन नशे की लत को बढ़ावा देती है और यह अवसाद, चिंता और यहां तक कि आत्महत्या के विचारों को उत्पन्न करती है।
छात्रों पर किया गया रिसर्च
चीन में सिंघुआ विश्वविद्यालय और सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ फाइनेंस एंड इकोनॉमिक्स के रिसर्चर ने ५,२८१ कॉलेज के छात्रों पर शोध किया। इस रिसर्च का लक्ष्य यह उजागर करना था कि क्या दूध वाली चाय की लत के लक्षण वास्तविक थे और क्या वे अवसाद और चिंता जैसी स्थितियों से संबंधित थे। रिसर्चर ने चीनी युवाओं के बीच दूधवाली चाय की लोकप्रियता में अभूतपूर्व वृद्धि को स्वीकार किया, जिससे उनके शोध के लिए मंच तैयार हुआ। इस शोध से पता चला है कि कुछ युवाओं में दूध की चाय की लत के स्पष्ट लक्षण दिखाई देते हैं।
सामाजिक अलगाव पैदा होता है
साथ ही उनमें से लगभग आधे लोगों ने माना कि वो हफ्ते में कम से कम एक कप दूध वाली चाय का सेवन करते हैं। रिसर्च में सामने आया कि ज्यादा मात्रा में शुगर वाली दूध की चाय में अक्सर वैâफीन होता है, जिससे किशोरों में खराब मूड और सामाजिक अलगाव पैदा होता है। इसके साथ ही रिसर्चर ने अनुमान लगाया कि चीन और अन्य जगहों पर युवा लोग भावनाओं से निपटने और अपनी मानसिक स्थिति को नियंत्रित करने के लिए दूध वाली चाय की ओर रुख कर रहे हैं।

अन्य समाचार