मुख्यपृष्ठनए समाचारवन विभाग की वजह से लटका सड़क का काम!

वन विभाग की वजह से लटका सड़क का काम!

-‘घोड़बंदर’ पर घाट रोड की मंजूरी का इंतजार… घाट के दोनों ओर स्थित है संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान

सामना संवाददाता / ठाणे

घोडबंदर मार्ग पर घाट सड़क कार्य का प्रस्ताव लोक निर्माण विभाग द्वारा तैयार किया गया है। अब इसे वन विभाग से मंजूरी का इंतजार है। संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान घाट के दोनों ओर स्थित है। प्रस्ताव को मंजूरी के लिए वन विभाग को भेजा गया है। वन विभाग से मंजूरी मिलने के बाद सड़क का वास्तविक काम शुरू होगा। संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र जंगली जानवरों का घर है। इसलिए अभी तक अनुमति नहीं मिल पाई है।
बता दें कि घोड़बंदर मार्ग मुंबई, ठाणे, उरण, गुजरात और नासिक क्षेत्रों में यातायात के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। इस मार्ग पर घाट के किनारे रोड कार्य प्रस्तावित है। हजारों की संख्या में भारी वाहन गोदामों की ओर बढ़ रहे हैं। इसलिए यह ठाणे जिले के महत्वपूर्ण मार्गों में से एक है। इस मार्ग पर घाट रोड है और बरसात के दिनों में बड़ी संख्या में गड्ढे हो जाते हैं। इसके अलावा घाटों की घुमावदार सड़क होने के कारण चढ़ाई पर कई भारी वाहन फंस जाते हैं, जिससे परेशानी होती है। इस मार्ग पर विपरीत दिशा से बहुत अधिक यातायात होता है और इससे इस मार्ग पर भीड़भाड़ भी होती है। इस कार्य के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी कर ठेकेदार को ठेका दे दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि इस काम पर ९ करोड़ ५० लाख रुपए खर्च होंगे।
१५ दिन में मंजूरी?
इस संबंध में पूछे जाने पर लोक निर्माण विभाग के एक इंजीनियर ने बताया कि संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के अधिकारी प्रस्ताव को मंजूरी दिलाने की प्रक्रिया में हैं। जोकि मंजूरी भी अंतिम चरण में है। इस कार्य को लेकर कलेक्टर कार्यालय में बैठक भी होगी। अगले १५ दिनों में मंजूरी मिलने की संभावना है। इसके बाद परिवहन विभाग की अनुमति से वास्तविक कार्य शुरू किया जाएगा।
घाट रोड के समांनांतर होगी सड़क
घोड़बंदर घाट पर चेना ब्रिज से लेकर काजूपाड़ा इलाके तक कई जगहों पर उतार-चढ़ाव है। यहां कई दुर्घटनाएं होती रहती हैं। भारी वाहन भी सड़क पर फंस जाते हैं। तो यह घाट मार्ग समानान्तर स्तर पर होने जा रहा है। इस काम में कम से कम तीन महीने लगने की उम्मीद है, लेकिन संभावना है कि काम के दौरान बड़ी अड़चन के कारण ठाणे, काशीमीरा, वसई इलाकों में यातायात प्रभावित होगा।

अन्य समाचार