मुख्यपृष्ठसमाचारसड़कें रहेंगी चकाचक! ...५ वर्ष तक ठाणे की सड़कों पर नहीं होंगे...

सड़कें रहेंगी चकाचक! …५ वर्ष तक ठाणे की सड़कों पर नहीं होंगे गड्ढे

•  स्टोन मैस्टिक डामर तकनीक से सर्विस रोड की मरम्मत शुरू
सामना संवाददाता / ठाणे
ठाणेकरों के लिए एक खुशखबरी है। खुशखबरी ऐसी है कि अगले ५ वर्षों तक ठाणे शहर की सड़कों पर एक भी गड्ढा नहीं होगा। दरअसल ठाणे मनपा ने स्टोन मैस्टिक डामर तकनीक से सर्विस सड़कों की मरम्मत की है। इस नई तकनीक के इस्तेमाल से ५ वर्षों तक सड़कों पर गड्ढे नहीं होते हैं। आनेवाले ५ वर्षों तक सड़कों पर गड्ढे नहीं होंगे, इससे सड़कें चकाचक रहेंगी और ठाणेकरों का सफर सुहाना होगा।

बता दें कि ठाणे मनपा ने मानसून के पहले ठाणे शहर की सड़कों को गड्ढामुक्त करने के लिए मरम्मत कार्य शुरू किया था। सड़कों की मरम्मत में इस बार नई तकनीक का इस्तेमाल किया है। इस तकनीक को स्टोन मैस्टिक डामर तकनीक कहा जाता है। ठाणे मनपा के मुताबिक इस नई तकनीक के माध्यम से सड़कों की मरम्मत करने पर सड़कों पर अगले ५ वर्षों तक गड्ढा नहीं होता है। ठाणे मनपा द्वारा मिली जानकारी के अनुसार सर्विस सड़कों में नितिन कंपनी से वैâडबरी जंक्शन, वैâडबरी जंक्शन से गोल्डन डाइज नाका, कोपरी ब्रिज से तीन हात नाका और शील-दिवा रोड का मरम्मत कार्य पूर्ण कर लिया गया है। ठाणे मनपा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुरुआत में विवियाना मॉल सर्विस रोड की मरम्मत में स्टोन मैस्टिक डामर तकनीक का इस्तेमाल किया गया था। सड़क पर उक्त तकनीक सफल रही इसलिए मनपा ने इन सर्विस सड़कों की मरम्मत इस तकनीक से की है। इस नई तकनीक के माध्यम से सड़कों की उम्र ५ वर्ष के लिए बढ़ गई है।

क्या है स्टोन मैस्टिक डामर तकनीक?
ठाणे मनपा अनुसार ऐसी तकनीक से सड़कों की मरम्मत की जाती है तो पांच साल तक सड़कें गड्ढों से मुक्त हो जाएंगी। इस तकनीक के तहत सड़क के ऊपर असफाल्ट कांक्रीट की परत दी जाती है जो कि बेहद मजबूत होती है। वहीं इस परत के ऊपर डांबर की भी परत दी जाती है। इस तकनीक के बाद सड़कों पर ५ वर्ष तक गड्ढे नहीं होते हैं। इस तकनीक की लागत अन्य तकनीकों की तुलना में २५ प्रतिशत अधिक है।

अन्य समाचार