मुख्यपृष्ठनए समाचार‘सड़कें होंगी सॉलिड'! ...पोरस कांक्रीट की तकनीक से नहीं होगा जलजमाव

‘सड़कें होंगी सॉलिड’! …पोरस कांक्रीट की तकनीक से नहीं होगा जलजमाव

• मनपा ने मंगाई ६,००० करोड़ रुपए की निविदा

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई में पक्की सड़कों के लिए मुंबई महानगरपालिका ने ६ हजार करोड़ का टेंडर मंगाया है और इस काम में महत्वपूर्ण जगहों पर पोरस कांक्रीट का इस्तेमाल किया जाएगा। इससे सड़कें सॉलिड होंगी और भारी बारिश के दौरान जलजमाव से मुंबई को निजात मिलेगी तथा यातायात सुचारू रहेगा। अपर आयुक्त पी. वेलारासू ने बताया कि इस काम के लिए विदेशों में इस्तेमाल होनेवाले ‘पोरस’ कांक्रीट तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा।
बता दें कि मुंबई मनपा के अधिकार क्षेत्र में लगभग दो हजार किलोमीटर की सड़कें हैं। महानगरपालिका ने इन सभी सड़कों को सीमेंट-कांक्रीट बनाने की योजना बनाई है। इनमें से करीब एक हजार किमी की सीमेंट कांक्रीटिंग का काम पूरा हो चुका है, जबकि शेष सड़कों को चरणबद्ध तरीके से सीमेंट-कांक्रीट का बनाया जा रहा है। इसमें महानगरपालिका ने ४०० करोड़ की लागतवाली सड़कों के लिए ५ हजार ८०० करोड़ रुपए का टेंडर मंगाया था। हालांकि ठेकेदारों की ओर से इन टेंडरों का कोई जवाब नहीं आने के कारण टेंडर प्रक्रिया को नए सिरे से लागू किया जाएगा। इसके लिए मनपा ने ६ हजार ८९ करोड़ ५१ लाख ७४ हजार का टेंडर मंगाया है। महानगरपालिका ने पहले २०१८ की दरों के अनुसार निविदाएं आमंत्रित की थीं लेकिन अब सीमेंट, लोहा, स्टील और अन्य सभी आवश्यक कच्चे माल की कीमतों में वृद्धि के कारण, सड़क कार्यों के लिए अनुबंध राशि में लगभग १७ प्रतिशत की बढ़ोतरी की है।

अन्य समाचार