मुख्यपृष्ठटॉप समाचारकैप से हुए कैद!...बंदूक की नोक पर की थी लूट

कैप से हुए कैद!…बंदूक की नोक पर की थी लूट

गोपाल गुप्ता / मुंबई। मुंबई में दिन-दहाड़े एक घर में लूट की वारदात को अंजाम देकर भागनेवालें पांच आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पारिवारिक कलह के कारण शिकायतकर्ता का चाचा ही इस साजिश का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है, उसने भाई को नीचा दिखाने के लिए उत्तर प्रदेश से बदमाश बुलाए थे। अपराधियों ने परिवार को बंधक बनाकर करीब २९ लाख रुपए लूट लिए, परंतु उनके वैâप यानी टोपी से वे पुलिस की वैâद में आ गए। आरोपी के खिलाफ डैकेटी, हत्या के मामले दर्ज है।
शिकायतकर्ता खार रोड-पश्चिम में परिवार के साथ रहता है और आभूषण का व्यापारी है। १० मार्च दोपहर करीब डेढ़ बजे तीन हथियार बंद बदमाश उनके घर में जबरी घुस गए। पिस्तौल दिखाकर मात्र ३५ मिनट में घर से सोने के आभूषण और नकदी सहित २९ लाख ६० हजार रुपए लूट कर फरार हो गए, जिसके बाद पीड़िता ने खार पुलिस स्टेशन में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।
डीसीपी मंजूनाथ सिंगे ने बताया कि आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद रिक्शा से अलग-अलग दिशा में फरार हो गए। इस दौरान आरोपियों ने पुलिस को चकमा देने के लिए रिक्शा में अपने कपड़े भी बदल लिए, परंतु मास्क और वैâप बदलना भूल गए। खार पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक संदीप पाटील की टीम शहर में लगाए गए सीसीटीवी फुटेज की जांच में जुट गई और मुखबिरों को एक्टिव कर दिया। करीब ७० से ८० वैâमरे की जांच करने के बाद आरोपियों की पहचान हो गई। सभी एक जैसे वैâप लगाए हुए थे, तभी मुखबिरों से सूचना मिली कि लुटेरे वाकोला इलाके से उत्तर प्रदेश भागने की तैयारी कर रहे है, जिसके बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्हें वारदात को अंजाम देने के लिए उत्तर प्रदेश बुलाया गया था। आरोपियों की निशानदेही पर शिकायतकर्ता के चाचा को गिरफ्तार किया गया, जिसने पूरा षड्यंत्र रचा था। सभी आरोपियों को १५ मार्च तक पुलिस हिरासत में रखा गया है।

अन्य समाचार