मुख्यपृष्ठनए समाचारअब तक १७ मामलों को अंजाम दे चुका लुटेरा गिरफ्तार

अब तक १७ मामलों को अंजाम दे चुका लुटेरा गिरफ्तार

-दिनदहाड़े घरों में घुसकर करता था चोरी

चंद्रकांत दुबे / मीरा रोड

काशीमीरा पुलिस स्टेशन की क्राइम ब्रांच की टीम ने एक ऐसे शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो दिन में ही घरों में घुसकर चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। मीरा-भायंदर वसई-विरार पुलिस आयुक्तालय की हद में इस अपराधी ने १७ लूटपाट और चोरी जैसी घटनाएं कर चुका था, जिसकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही थी।
बता दें कि काशीमीरा पुलिस स्टेशन की हद में इस अपराधी ने तोड़-फोड़ कर ३ चोरी की घटना को अंजाम दे चुका था। आरोपी सिलसिलेवार अपराध करनेवाला अपराधी है। पुलिस के अनुसार, उसने विरार पुलिस स्टेशन की हद में १४ वारदातों को अंजाम दिया है। काशीमीरा पुलिस स्टेशन की सीमा के अंतर्गत मीरा-गांवठन में रहने वाली साक्षी अजय सावंत और उनके पति जब काम पर गए थे, तो उनके घर में घुसकर किसी ने ५० ग्राम वजन के सोने का जेवरात चुरा लिया है। चूंकि यह घटना दिनदहाड़े हुई थी, इसलिए पुलिस के होश उड़ गए। वरिष्ठ अधिकारियों ने इस पर संज्ञान लिया और उनके निर्देशानुसार अपराध की जांच शुरू की गई।
जांच के दौरान आस-पास के सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई, जिसमें एक संदिग्ध देखा गया। आरोपी नालासोपारा के पेल्हार और विरार इलाके का रहने वाला है। जब आरोपी की विरार इलाके में तलाश की गई तो आरोपी गोपचरपाड़ा, विरार-पूर्व में मिला। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो पता चला कि वह सिलसिलेवार अपराध करनेवाला शातिर अपराधी है। पूछताछ में उसने इस अपराध के अलावा काशीमीरा में दो अन्य स्थानों पर भी चोरी की वारदातों को अंजाम दिया था। उसके पास से १ लाख ४० हजार की संपत्ति बरामद की गई, जिसमें ८५ ग्राम वजन की सोने की चूड़ियां और अपराध में प्रयुक्त हथियार तथा एक लोहे की रॉड शामिल है। जोन-१ के डीसीपी जयंत बजबले ने बताया कि आरोपी दिन में बंद घरों में ही चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। जांच की गई तो पता चला कि आरोपी ने विरार पुलिस स्टेशन की सीमा के भीतर १४ अपराध किए हैं।

अन्य समाचार