मुख्यपृष्ठस्तंभरौबीलो राजस्थान : रैंकिंग री रैंगिंग

रौबीलो राजस्थान : रैंकिंग री रैंगिंग

बुलाकी शर्मा

साहित्यकार सुपर-डुपर हुया करै। ‘म्हनै घड़गी जिकी बाड़ में बड़गी’ जिसै ऊंचा भावां सूं भरियोड़ा। ऊपर करतार अर अठै हूं साहित्यकार! इसा सुपर साहित्यकारां री रैंकिंग! वाकई भोत अजोगती बात है। हरैक साहित्यकार खुद री निजर में सिरै ही हुवै। दूजै साहित्यकारां नै बो कागद खराब करणियो अर पेडां रो हित्यारो मानै। इसा आत्माभिमानी साहित्यकार रैंकिंग री बाड़ाबंदी कद सहन कर सकै। बाड़ाबंदी तो राजनेतावां सारू हुया करै, साहित्यकार रो कांई काम।
इण भांत री बाड़ाबंदी किसी भी भासा रो साहित्यकार बर्दास्त कोनी कर सकै। हिंदी रा साहित्यकारां ई कोनी करी। अंतर्राष्ट्रीय लोकप्रियता नै रैंकिंग देंवता थकां लारलै दिनां जारी हिंदी रा १०० साहित्यकारां री राही रैंकिंग रो जम’र विरोध हुय रैयो है। हुवणो ई चाईजे। इसी रैंकिंग साहित्यकारां रो कद ओछो करण री ओछी चाल है। आपरी निजर में नंबर वन, पण लिस्ट में खुद रो नांव दूसरी, तीसरी के सौवीं रैंक माथै देख’र रीस तो आवणी ई है। अर जिकां रो १०० में ई नांव कोनी बां रो तो खून खौळ रैयो है। रैंकिंग बणावणिया साम्हीं आय जावै तो खून-खराबो हुवण रा पूरा चांस लागै।
रैंगिंग माथै रोक हुवता थका ई कॉलेज में नवो एडमिशन लेवणिया स्टूडेंट रैंगिंग सूं बच नीं सकै, बियां ई आ रैंकिंग लिस्ट नाराज साहित्यकारां री रैंगिंग री चपेट में आयोड़ी है। लिस्ट में जिकां रो नांव है, बे भी रैंगिंग करणियां में क्यूंकै बे आपरी रैंकिंग सूं रुष्ट है कै रैंक ऊपर हुवणी ही। रुष्ट हुवता थका ई बे आपरी नाराजगी सार्वजनिक नीं कर’र आ महानता जाहिर कर रैया है कै बां सारू इसी रैंकिंग कोई मायनो कोनी राखै, बे तो भोत ऊपर है! जिकां रा नांव रैंकिंग लिस्ट सूं गायब है बे रैंगिंग टीम रा अगुआ कै जिकां नै कलम कै माउस झालणो कोनी आवै, बे लिस्ट में कियां आयग्या? पण बे खुद नै तटस्थ बतावण री कोसीस में खुद रो नांव नीं हुवण री चर्चा नीं कर’ र, ई चर्चा नै हवा देय रैया कै फलां नांव पैला क्यूं कै फलां नांव पछै क्यूं कै फलां नांव गायब क्यूं? राही रैंकिंग री रैंगिंग करतां दूजी लिस्टां ई सोशल मीडिया रै मार्केट में दीखण लाग रैयी है। रैंकिंग लिस्ट में म्हारो नांव हुवता थका ई म्है रैंकिंग देवणियां साथै नीं, रैंगिंग करणियां साथै हूं। क्यूंकै म्हैं ई ओ मानूं कै म्हांसूं गोरो बीं ने पीळियै रो रोग!

अन्य समाचार