मुख्यपृष्ठनए समाचारसत्र के पहले दिन मचा हंगामा सत्ता दल का छूटा पसीना

सत्र के पहले दिन मचा हंगामा सत्ता दल का छूटा पसीना

सामना संवाददाता / मुंबई

राज्य सरकार का बजट सत्र कल से शुरू हो गया है। ट्रिपल इंजन सरकार आज राज्य का अंतरिम बजट पेश करने जा रही है। इस बीच बजट सत्र के पहले ही विपक्ष ने राज्य में चल रहे गुंडाराज, किसानों की समस्याओं समेत कई गंभीर मद्दों पर हंगामा मचाते हुए चौतरफा हमला किया। विपक्ष की आक्रामकता को देखते हुए सत्ता पक्ष के पसीने छूट गए। दूसरी तरफ विपक्ष ने विधान भवन की सीढ़ियों पर आंदोलन करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार, विधान परिषद में विपक्ष के नेता अंबादास दानवे, कांग्रेस विधायक बालासाहेब थोरात, भाई जगताप, नितिन राऊत और अन्य नेता उपस्थित थे।
इस दौरान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय वडेट्टीवार ने कहा कि सत्र में विपक्ष का प्रस्ताव बुधवार को रखा जाएगा। हालांकि, हमने सरकार को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि प्रश्नोत्तर नहीं केवल ध्यानकर्षण प्रस्ताव रखें, क्योंकि अगले पांच महीनों तक बोलने का मौका नहीं मिलेगा, लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार नहीं किया। राज्य सरकार की कड़ी निंदा करते हुए वडेट्टीवार ने कहा कि जब हमारा प्रस्ताव आएगा तो हम सरकार के कामकाज का वस्त्रहरण करेंगे। वडेट्टीवार ने यह भी कहा कि सभी पाप वे करें और आरोप हम पर करें अब ये नहीं चलेगा। बजट सत्र के पहले दिन विपक्ष ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
वित्त मंत्री अजीत पवार आज अंतरिम बजट पेश करने वाले हैं। इस बीच अनुमान है कि यह इस सरकार का अंतरिम बजट है। इसलिए बुनियादी ढांचे, शहरी क्षेत्रों के लिए विभिन्न परियोजनाओं, कृषि क्षेत्र के लिए पर्याप्त प्रावधान, किसानों के लिए पैकेज आदि के संबंध में कुछ खास घोषणाएं होने की संभावना नहीं हैं। सभी योजनाएं पुरानी हो सकती हैं।
आक्रामक भूमिका में विपक्ष
विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय वडेट्टीवार ने कहा कि बजट सत्र शुरू होने से एक दिन पहले सत्ता पक्ष ने विपक्षी दलों को चाय पार्टी के लिए आमंत्रित किया था। हालांकि, विपक्षी दलों ने चाय पार्टी का बहिष्कार किया और विभिन्न मुद्दों पर सरकार की कड़ी आलोचना की।

 

 

अन्य समाचार