मुख्यपृष्ठनए समाचारसुरंग को प्रदूषण मुक्त करेगा ‘सकार्डो’ ... कोस्टल रोड में लगेगा विदेशी...

सुरंग को प्रदूषण मुक्त करेगा ‘सकार्डो’ … कोस्टल रोड में लगेगा विदेशी तकनीकी का चलता-फिरता पंखा

•  देश में पहली बार इस सिस्टम का होगा इस्तेमाल
• सुरंग में मिलेगी स्वच्छ हवा, गाड़ियों के धुएं होंगे बाहर
रामदिनेश यादव / मुंबई
देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की सबसे महत्वपूर्ण परियोजना कोस्टल रोड का काम इन दिनों काफी तेजी से चल रहा है। मनपा इंजीनियर्स की टीम इस परियोजना को समय से पूरा करने के प्रयास में है। इस परियोजना में सबसे आकर्षक और रोचक भाग है २.०७ किमी लंबी सुरंग, जो समुद्र और पहाड़ी के नीचे से होकर गुजर रही है। मनपा की ओर से इस सुरंग को पूरी तरह से सुरक्षित और अनुकूल बनाने का प्रयास किया जा रहा है। इसी के तहत विदेशी तकनीकी का ‘सकार्डो लौंगीट्यूडनल वेंटिलेशन नोजल सिस्टम’ का इस्तेमाल किया जा रहा है। हाल ही में इसके इंस्टालेशन का काम शुरू किया गया है। इससे सुरंग में स्वच्छ हवा तेज रफ्तार से भेजी जा सकेगी और वाहनों से होनेवाला प्रदूषण उस हवा के जरिए वापस बाहर निकाला जा सकेगा।
इस बारे में हाल ही में बैठक हुई, जिसमें मनपा की अतिरिक्त आयुक्त अश्विनी भिड़े को प्रेजेंटेशन भी दिया गया। उनकी निगरानी में कोस्टल रोड का प्रोजेक्ट पूरी रफ्तार से चल रहा है।
इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए कोस्टल रोड परियोजना के मुख्य इंजीनियर एमएम स्वामी ने बताया कि यह विदेशी तकनीकी है। बहुत से देशों में इस ‘सकार्डो लौंगीट्यूडनल वेंटिलेशन नोजल सिस्टम’ का उपयोग हुआ है। लेकिन हिंदुस्थान में यह पहली बार किसी सुरंग में इस्तेमाल किया जा रहा है। इसका बहुत फायदा है। सुरंग को प्रदूषण मुक्त किया जा सकेगा। वाहनों के प्रदूषण को वेंटिलेशन सिस्टम से बाहर कर सकेंगे।
एक अन्य इंजीनियर के अनुसार इस परियोजना की दो सुरंगों में से एक सुरंग का काम पूरा हो चुका है और दूसरी सुरंग का आधे से ज्यादा खुदाई हो चुकी है। ऐसे में पहली सुरंग में सड़क बनाने से लेकर सुरक्षा संसाधन और ‘सकार्डो लौंगीट्यूडनल वेंटिलेशन नोजल सिस्टम’ का काम शुरू हो चुका है। एक सुरंग पर तीन जगह वेंटिलेशन के लिए छोटी सुरंग होगी। जहां बड़े हाई स्पीड के पैâन होंगे। ये पैâन १,८०० एमएम की स्पीड से चलेंगे। इसके भीतर ही लंबा सा पाइप होगा, जो इन हवाओं को उसी रफ्तार से वाहन जाने की दिशा में ही धकेलेगा। उसके आगे भी एक पंखा होगा जो सुरंग में दूषित हवाओं को बाहर की तरफ खींचेगा। इस प्रकार के सिस्टम दोनों सुरंगों में होंगे।
शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे और युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे की सबसे पसंदीदा मनपा की यह कोस्टल रोड परियोजना का काम वर्ष २०१८ में शुरू किया गया था। इस परियोजना पर मनपा १२,७२६ करोड़ रुपए खर्च कर रही है। मरीन लाइंस से सीधे वर्ली तक १० किलोमीटर कोस्टल रोड परियोजना का काम पहले चरण में किया जाना है। मनपा की ओर से अब तक ६० फीसदी से ज्यादा काम हो चुका है। अगले वर्ष नवंबर तक इस परियोजना का लाभ आम जनता ले सकेगी। ट्रैफिक के कारण मरीन लाइंस से वर्ली तक जाने में जहां २ घंटे तक का समय लगता है, वहीं इसके बन जाने के बाद इस दूरी को १५ से २० मिनटों में पूरा किया जा सकेगा।

अन्य समाचार