मुख्यपृष्ठखबरेंअलविदा जाम! नवाडे फाटा पर फ्लाईओवर बनकर हुआ तैयार, ट्रैफिक जाम से...

अलविदा जाम! नवाडे फाटा पर फ्लाईओवर बनकर हुआ तैयार, ट्रैफिक जाम से मिलेगी राहत

 ३ वर्ष पहले शुरू हुआ निर्माण कार्य
 फ्लाईओवर पर लगाई गईं ९० स्ट्रीट लाइट
कुमार नागमणि। विकास की रफ्तार के साथ ही नई मुंबई पर ट्रैफिक का बोझ बढ़ता जा रहा है। इसे देखते हुए यहां कई फ्लाईओवर बनाए जा चुके हैं मगर अभी और की जरूरत महसूस हो रही है। नई मुंबई के कलंबोली स्थित नवाडे फाटा के पास अक्सर जाम लगा रहता है। इससे निपटने के लिए यहां एक फ्लाईओवर का निर्माण किया गया है। इस फ्लाईओवर के शुरू होते ही यहां से जाम अलविदा हो जाएगा।
बता दें कि नवाडे फाटा से तलोजा एमआईडीसी क्षेत्र में वाहनों के आवागमन के लिए एमएसआरडीसी द्वारा ३ वर्ष पहले फ्लाईओवर का निर्माण शुरू कराया गया था, जो अब पूरा हो गया है। आगामी एक सप्ताह के भीतर यह फ्लाईओवर वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा। इस फ्लाईओवर के खुलने पर नवाडे में होनेवाली ट्रैफिक जाम की समस्या से वाहन चालकों को राहत मिलने की उम्मीद व्यक्त की जा रही है।
बता दें कि पनवेल-मुंब्रा मार्ग नवाडे से होकर गुजरता है, जहां से तलोजा एमआईडीसी के क्षेत्र में हमेशा भारी वाहनों की भीड़ लगी रहती है। इस वजह से वाहन चालकों व कंपनी मालिकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। नवाडे गांव के पास सड़क पर यातायात जाम के चलते यहां पर छोटी-बड़ी दुर्घटनाएं लगातार हो रही थीं। इन दुर्घटनाओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए एमएसआरडीसी द्वारा ३ वर्ष पहले नवाडे फाटा पर ७० करोड़ रुपए की लागत से एक फ्लाईओवर का निर्माण शुरू किया गया था। इस फ्लाईओवर पर प्रकाश की व्यवस्था के लिए ९० स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं।
कोरोना के कारण हुआ विलंब
बता दें कि नवाडे फाटा के इस फ्लाईओवर का काम २ वर्ष में पूरा करा के इसे वाहनों के लिए खोलने की योजना एमएसआरडीसी द्वारा बनाई गई थी, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से लॉकडाउन लग गया था, जिसकी वजह से इस फ्लाईओवर का निर्माण प्रभावित हुआ था। दूसरी ओर नवाडे गांव से तलोजा एमआईडीसी में ग्रामीणों के आवागमन के लिए भूमिगत मार्ग बनाने की मांग को लेकर यहां के ग्रामीणों द्वारा आंदोलन किया गया था, जिसके कारण भी फ्लाईओवर का निर्माण कुछ दिनों तक बंद कर दिया गया था।
भूमिगत मार्ग का कराया गया निर्माण
नवाडे गांव से तलोजा एमआईडीसी में लोग पैदल आवागमन कर सकें, इसके लिए एमएसआरडीसी द्वारा यहां पर भूमिगत मार्ग का निर्माण कराने का निर्णय लिया गया था, जिसके बाद इस फ्लाईओवर का निर्माण फिर से युद्धस्तर पर शुरू किया गया। फ्लाईओवर का निर्माण कार्य देखने वाले एमएसआरडीसी के अधिकारियों ने कहा कि फ्लाईओवर काम अब पूरा हो गया है। इसके ऊपर स्ट्रीट लाइटें लगा दी गई हैं। आगामी सप्ताह में इस फ्लाईओवर को यातायात के लिए खोल दिया जाएगा
एक और फ्लाईओवर की जरूरत है
नवाडे फाटा के पास फ्लाईओवर का निर्माण एमएसआरडीसी का सराहनीय कार्य है। इससे वाहन चालकों को ट्रैफिक जाम से छुटकारा मिलेगा। रोडपाली सिग्नल पर चारों दिशाओं से आनेवाले वाहनों के कारण जाम की स्थिति बनी रहेगी, जिससे छुटकारा दिलाने के लिए रोडपाली सिग्नल पर फ्लाईओवर बनाने की जरूरत महसूस की जा रही है। इस संबंध में संबंधित विभाग को पत्र दिया जाएगा।
-सतीश शेट्टी, अध्यक्ष, तलोजा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन
वाहन चालकों को राहत मिलेगी
रोडपाली सिग्नल पर ट्रैफिक जाम के कारण वाहन घंटों फंसे रहते हैं। ऐसे में इस फ्लाईओवर के निर्माण से एमआईडीसी में जानेवाले नागरिकों और वाहन चालकों को राहत मिलेगी।
-सीपी प्रजापति, स्थानीय निवासी
आवागमन सुगम होगा
नवाडे फाटा पर फ्लाईओवर बनने से ट्रैफिक जाम की समस्या दूर होनेवाली है। इससे नवाडे फाटा के पास वाहनों का आवागमन सुगम होगा, वहीं नवाडे गांव के पास बने रोडपाली सिग्नल पर यातायात जाम होने की संभावना है।
-महेश पाटील, पीएसआई, तलोजा यातायात विभाग

अन्य समाचार