मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासरोकार : नई मुंबई में RRR...शहर में ‘रिड्यूस’, ‘रीयूज’ और ‘रिसाइकल’ पर...

सरोकार : नई मुंबई में RRR…शहर में ‘रिड्यूस’, ‘रीयूज’ और ‘रिसाइकल’ पर दिया जा रहा है जोर

• जरूरतमंदों तक पहुंचाए जा रहे हैं पुराने सामान
• शहर में ३५ स्थानों पर स्थापित किए गए स्टैंड
• कुल १११ जगहों पर स्टैंड लगाने की है योजना

कुमार नागमणि।  नई मुंबई मनपा क्षेत्र में नागरिकों द्वारा रोजाना गीले और सूखे कचरे के अलावा पुराने सामान को भी कूड़ेदान में फेंक दिया जाता है। इनमें से कई वस्तुओं का पुन: उपयोग किया जा सकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए मनपा आयुक्त द्वारा इन वस्तुओं को जरूरतमंदों तक पहुंचाने के लिए मनपा द्वारा ३५ स्टैंड बनाए गए हैं, जहां पर लोग गैर उपयोगी सामान को रख सकते हैं और जरूरतमंद लोग वहां से अपनी जरूरत के सामान ले सकते हैं।
विशेष डिब्बे की व्यवस्था
मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर के मार्गदर्शन में मनपा द्वारा उक्त अनोखा अभियान शुरू किया गया है। यह अभियान वस्तुओं का पुन: उपयोग करने और दैनिक कचरे की मात्रा को कम करने की दृष्टि से ‘थ्री आर’, ‘रिड्यूस, रीयूज ऑफ वेस्ट और रिसाइकल ऑफ वेस्ट’ की अवधारणा के तहत मनपा द्वारा शुरू किया गया है। इसके लिए मनपा द्वारा बनाए गए स्टैंड में विभिन्न वस्तुओं के भंडारण के लिए विशेष डिब्बे की व्यवस्था की है, जिसमें अपने उपयोग में नहीं आनेवाले सामान को रख सकते हैं। इन वस्तुओं में रोजमर्रा के कपड़े, चप्पल-जूते, बर्तन, खिलौने, चादर, कंबल को लोग रख सकते हैं, जो उनके उपयोग में नहीं हैं, लेकिन उनका उपयोग कोई और कर सकता किया है। इतना ही नहीं, स्टैंड में सामान रखनेवाले भी यहां से अपने उपयोग के लिए किसी अन्य व्यक्ति द्वारा रखे गए सामान को ले सकते हैं।
विभागीय कार्यालयों को रखरखाव की जिम्मेदारी
नई मुंबई मनपा की यह एक अभिनव पहल है, जिसे ‘जो तुम नहीं चाहते उसे दे दो’ और ‘जो चाहते हो ले लो’ का नाम दिया गया है। इस अभियान से मनपा क्षेत्र में सूखे कचरे की मात्रा कम होगी। वर्तमान में नई मुंबई मनपा द्वारा बेलापुर से दीघा तक ३५ स्थानों पर इन स्टैंडों को स्थापित किया गया है, और जल्द ही सभी १११ वॉर्डों में इन स्टैंडों को स्थापित करने की योजना है। इसके रखरखाव की जिम्मेदारी मनपा के संबंधित विभागीय कार्यालयों को दी गई है।
पर्यवेक्षक करते हैं निरीक्षण
गौरतलब है कि जहां स्टैंड स्थित हैं, वहां स्टैंड में लगे उपकरणों की देखभाल उस क्षेत्र के पर्यवेक्षकों द्वारा की जा रही है। वस्तुओं में कपड़े, किताबें, चप्पल, जूते, बर्तन, खिलौने और अन्य वस्तुओं को विशेष डिब्बों में रखा जाता है। वहां पर हर दिन पर्यवेक्षक उनका निरीक्षण करता है। सही सामान सही डिब्बे में रखा गया है कि नहीं, इसका ध्यान पर्यवेक्षक द्वारा रखा जा रहा है। चूंकि यह स्टैंड भीड़-भाड़वाली जगह और रिहायशी इलाके के पास स्थित है, इसलिए नागरिकों का इसे अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है।
बहुत ही सराहनीय उपक्रम
नई मुंबई मनपा का यह उपक्रम बहुत ही सराहनीय है। आमतौर पर कई अच्छे सामान, कपड़ा या जरूरत की चीजें कचरे में चली जाती हैं। इस उपक्रम से ऐसी चीजें किसी जरूरत मंद के काम आ सकती हैं।
-मधुकर राउत, शिवसेना विभाग प्रमुख

भंगार भी काम का
घरों में कई काम की चीजें भंगार में चली जाती हैं। ये चीजें किसी के काम आ सकती हैं। बनाए गए स्टैंड से नागरिक अपने घरों से बिना जरूरत के सामान निकाल कर इस स्टैंड पर रख सकते हैं। इस स्टैंड से वह भी अपने जरूरत के सामान ले जा सकते हैं।
-पूनम दुबे, स्थानीय निवासी

शहर की स्वच्छता में योगदान दें
कई घरेलू पुन: प्रयोज्य वस्तुओं का पुनर्नवीनीकरण किया जाएगा। यह अभिनव पहल ‘शून्य कचरा’ के लक्ष्य को प्राप्त करेगी। नागरिकों को इस पहल में भाग लेकर अपनी सामाजिक प्रतिबद्धता को बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए। मनपा की इस पहल के माध्यम से शहर की स्वच्छता में भी योगदान देना चाहिए।
-अभिजीत बांगर, आयुक्त नई मुंबई मनपा

अन्य समाचार