मुख्यपृष्ठस्तंभसेहत का तड़का : फिटनेस रखें राइट डांस और डाइट ...शिबानी दांडेकर...

सेहत का तड़का : फिटनेस रखें राइट डांस और डाइट …शिबानी दांडेकर अलफ्रेस्को एक्सरसाइज को देती हैं महत्व

एस. पी. यादव

अभिनेत्री, गायिका, मॉडल व प्रस्तोता शिबानी दांडेकर अख्तर का जन्म २७ अगस्त १९८० को पुणे के एक मराठी परिवार में हुआ। टीवी और फिल्मों के अलावा इन दिनों ओटीटी प्लेटफार्म पर धमाल मचा रही शिबानी दांडेकर अपने इंस्टाग्राम पर अक्सर फिट और फाइन रहने के प्रमाण देती रहती हैं। अक्सर खुले मैदानों या किसी सुरम्य प्राकृतिक स्थल पर वर्कआउट करनेवाली शिबानी का कहना है कि अलप्रâेस्को एक्सरसाइज फिटनेस को अर्थ देता है।

शिबानी के पिता शशिधर दांडेकर ऑस्ट्रेलिया में थिएटर में अभिनय करते थे और मां सुलभा दांडेकर ऑस्ट्रेलिया के क्वांटस एयरवेज में काम करती थीं। इसलिए शिबानी का ज्यादातर बचपन ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका में बीता। शिबानी ने ऑस्ट्रेलिया से स्नातक किया। २००१ में वह न्यूयॉर्क चली गर्इं और ‘नमस्ते अमेरिका’, ‘वी देसी’, ‘एशियन वैराइटी शो’ जैसे अमेरिकी टीवी शो में काम किया। शिबानी ने अपनी बहन अनुषा (एम टीवी की वीजे) और अपेक्षा के साथ म्यूजिक बैंड ‘डी-मेजर’ बनाया और विदेशों में कार्यक्रम करने लगीं। उन्होंने भारत में २०१२ में ‘झलक दिखला जा-५’ २०१७ में ‘खतरों के खिलाड़ी-८’ जैसे रियलिटी शोज में काम किया। ‘भावेश जोशी’, ‘नाम शबाना’, ‘टाइमपास’ जैसी फिल्मों में भी नजर आर्इं। इस साल वेबसीरिज ‘मेड इन हेवन’ में नजर आ रही हैं। १९ फरवरी २०२२ को उन्होंने अभिनेता फरहान अख्तर से शादी कर ली।

•  अलफ्रेस्को को प्राथमिकता
शिबानी दांडेकर को जिम में एक्सरसाइज करना कम पसंद है। वह अलफ्रेस्को एक्सरसाइज (खुली हवा में धूप सेंकते हुए की जानेवाली कसरत) को महत्व देती हैं। उनका कहना है कि प्रकृति की गोद में ‘ग्रीन एक्सरसाइज’ करने से शारीरिक और मानसिक सेहत में सुधार होता है। सेरोटोनिन और मूड को बेहतर बनानेवाले एंडार्फिन हार्मेन्स का स्राव बढ़ जाता है। इससे अपकी दिनचर्या किसी खेल की तरह आनंददायक हो जाती है। बकौल शिबानी, `जो वर्कआउट चेहरे पर मुस्कान ला दे, वही महत्वपूर्ण होता है।’

•  डांस करते हुए एक्सरसाइज
शिबानी दांडेकर अक्सर डांस करते हुए एक्सरसाइज करती हैं। वे प्रतिदिन डांस करते हुए पिलेट्स, काडियो और स्ट्रेचिंग करती हैं। बकौल शिबानी, `नृत्य मेरे जीवन का हिस्सा नहीं, बल्कि मेरा जीवन है। यह मेरी आत्मा को पोषण देता है। इससे वर्कआउट करना आनंददायक हो जाता है।’ शिबानी प्रतिदिन किक बॉक्सिंग और योग-अभ्यास करती हैं। सॉफ्टबॉल, नेटबॉल खेल की प्रैक्टिस करती हैं।

•  लेती हैं हाई प्रोटीन डाइट
शिबानी अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखती हैं। जंक फूड से परहेज करती हैं। हाई प्रोटीन डाइट लेती हैं, जिसमें मीट, ताजे फल, दही और सब्जियां शामिल होती हैं। उन्हें घर पर जमाई दही पसंद है। नाश्ते में उबले अंडे, एवाकाडो खाना पसंद है। स्नैक्स में सूखे मेवे खाती हैं। सही भोजन के साथ-साथ पर्याप्त पानी पीने और विटामिन की खुराक लेने पर ध्यान देती हैं। उन्हें वेज बर्गर, धनशाक, नवाबी कवाब, बारामुंडी, मशरूम, बारबेक्यू वेज पसंद है।

शिबानी की पसंदीदा आलू-टिक्की बर्गर की रेसिपी
सामग्री: दो आलू टिक्की, दो बर्गर बन्स, एक चम्मच मक्खन, आधा चम्मच टमाटर के केचप, दो सलाद के पत्ते (लेटुस), दो-तीन चम्मच मेयोनेज, पतली फांकों में कटा एक टमाटर और एक प्याज, दो चीज स्लाइस।
विधि : बर्गर बन को बीच से दो भागों में काट लें। पैन में बटर गर्म कर बन के दोनों भागों को हलके भूरे रंग का होने तक सेंक लें। आलू की टिक्की तैयार कर लें। बन के निचले हिस्से पर टमाटर का केचप लगा दें। इस पर सलाद का पत्ता बिछाकर उसके ऊपर आलू टिक्की रख दीजिए। इस पर एक चम्मच मेयोनेज की परत लगा दें। अब आलू टिक्की पर टमाटर की दो और प्याज की तीन-चार स्लाइस रख दीजिए। सबसे ऊपर एक चीज की स्लाइस रख दीजिए। अब बन के ऊपरी हिस्से से ढक लें।
फायदे : इसकी एक खुराक में लगभग १२५ कैलोरी मिलती है। इसमें कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन और वसा की मात्रा संतुलित होती है। इसलिए झटपट एनर्जी देने में कारगर है। विटामिन बी१२, सेलेनियम और राइबोफ्लेविन का बेहतर स्रोत है। मैदे की जगह गेहूं के आटे का बन हो तो यह वजन को भी नियंत्रित रखता है।

अन्य समाचार