मुख्यपृष्ठसमाचारवाराणसी में इंटरसिटी एक्सप्रेस के जनरल कंपार्टमेंट में जूट के एक बोरे...

वाराणसी में इंटरसिटी एक्सप्रेस के जनरल कंपार्टमेंट में जूट के एक बोरे में बंद युवती का शव मिलने से मची सनसनी

सामना संवाददाता / उमेश गुप्ता

वाराणसी बनारस स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच पर मंगलवार की रात उस समय सनसनी फैल गई, जब इंटरसिटी एक्सप्रेस के जनरल कंपार्टमेंट में जूट के एक बोरे में युवती का शव मिला। युवती के हाथ-पैर रस्सी से बंधे हुए थे। घटना को लेकर मौके पर खलबली मची रही। आशंका जताई जा रही है कि अन्यत्र कहीं युवती की हत्या कर शव को ठिकाने लगाने के लिए ट्रेन में रख दिया गया। हालांकि, जीआरपी व आरपीएफ वारदात से जुड़े सभी पहलुओं की जांच कर रही है।
रेल सूत्रों के अनुसार, लखनऊ से आने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस बनारस स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच पर आकर मंगलवार की रात लगभग 8 बजे खड़ी हुई। बोगियों की जांच करते समय देर रात लगभग 12.30 बजे स्टेशन मास्टर ने जीआरपी चौकी प्रभारी धनंजय मिश्र को गाड़ी संख्या 15,108 के जनरल बोगी में बोरे में बंधी कोई वस्तु पड़े होने की सूचना दी। बताया कि बोरे से दुर्गंध फैल रही है। सूचना पर सक्रिय हुई जीआरपी एवं आरपीएफ द्वारा मंडुआडीह पुलिस की मदद से बोरे को खोलकर देखा गया तो उसमें लगभग 30 वर्षीय अज्ञात युवती का शव पड़ा था। उसके हाथ व पैर रस्सी से बंधे और बोरे में खून लगा हुआ था। मौके पर पहुंची फोरेंसिक टीम ने भी जांच की। इस दौरान तलाशी में कुछ नहीं मिला, जिससे युवती की पहचान की जा सके।
सूचना पर सीओ कुंवर प्रभात सिंह, जीआरपी कैंट प्रभारी हेमंत सिंह भी पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर विधिक कार्रवाई में जुट गए। पुलिस अधिकारियों का कहना था कि प्रथम दृश्ट्या मामला हत्या का प्रतीत हो रहा है। फिलहाल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही कुछ कहा जा स‍केगा। समाचार संकलन तक युवती की शिनाख्त नहीं हो सकी थी।

अन्य समाचार