मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा के चुनाव चिह्न पर लड़ेंगे शिंदे गुट के सात सांसद!  ...कांग्रेस...

भाजपा के चुनाव चिह्न पर लड़ेंगे शिंदे गुट के सात सांसद!  …कांग्रेस नेता सतेज पाटील का सनसनीखेज दावा

सामना संवाददाता / मुंबई
नए वर्ष की शुरुआत होते ही राजनीतिक वातावरण गर्म हो गया है। इस वर्ष लोकसभा और राज्य विधान सभा के चुनाव होने हैं। चुनाव के मद्देनजर विभिन्न प्रकार की राजनीतिक उथल-पुथल होगी, ऐसा कहा जा रहा है। नए वर्ष के पहले सप्ताह में ही कांग्रेस के बड़ा नेता ने सनसनीखेज दावा करके खलबली मचा दी है। जिसके कारण राज्य में एक बार फिर राजनीतिक भूकंप होने की चर्चा शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता सतेज पाटील ने दावा किया है कि किसी भी राजनीतिक दल की उम्मीदवारी अभी तक तय नहीं हुई है। शिंदे गुट के सात सांसदों ने लिखित रूप में भाजपा को पत्र दिया है कि हमें भाजपा के चुनाव चिन्ह पर लड़ना है। ऐसी जानकारी सामने आई है। १० जनवरी को शिंदे गुट के विधायकों का निर्णय क्या होता है, उसके बाद राज्य में आगे की राजनीति निर्भर होगी। इसलिए जनवरी के अंत तक सभी तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी, ऐसा दावा पाटील ने किया है। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि राज्य की जनता मतदान की राह देख रही है। लोगों के पास मौका है। महाविकास आघाड़ी को मौका मिलेगा, ऐसा अंदाज है। उन्होंने आगे कहा कि भाजपा ने जो विकास भारत की यात्रा निकाली, उसका राजनीतिक दलों ने नहीं, बल्कि जनता ने विरोध किया। विकास का मुद्दा झूठा है, ऐसा लोगों ने कहा। इसलिए जनता महाविकास आघाड़ी को मतदान करेगी, ऐसा विश्वास पाटील ने व्यक्त किया। कांग्रेस को लोकसभा की कौन सी सीट चाहिए, इसकी सूची वरिष्ठों को दी गई है।

आने वाले आठ-दस दिनों में महाविकास आघाड़ी की सीटों के बंटवारे के संदर्भ में गणित स्पष्ट हो जाएगा।
महाविकास आघाड़ी की अधिक से अधिक सीटें चुनकर आएं, यही कांग्रेस का मुख्य अजेंडा है।
भाजपा के खिलाफ लड़ना यह ’इंडिया’ गठबंधन की प्रधानता है
भाजपा के गैरकानूनी कार्यभार के खिलाफ लड़ना, यही इंडिया गठबंधन की प्रधानता रहेगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि आने वाले चुनाव में टिकट देने में जिताऊ उम्मीदवारों को ही प्रधानता दी जाएगी।

अन्य समाचार