मुख्यपृष्ठअपराधसेक्स, शराब और हत्या

सेक्स, शराब और हत्या

जय सिंह

विवाह पूर्व हुए प्यार ने विवाह के बाद भी ऐसा खेल रचा कि पति की हत्या हो गई। पति की हत्या के जुर्म में पत्नी अपने प्रेमी के साथ सलाखों में वैâद है। अब ४ महीने बाद पुलिस ने आखिरकार इस हत्या से पर्दा उठाया है। इस हत्या में जहां १२ साल पुराने अवैध संबंध और पति के शराब पीने की लत ने हत्या को अंजाम दिलवाने में अहम भूमिका निभाई। सहारनपुर पुलिस ने एक ब्लाइंड मर्डर का खुलासा किया है। चार माह से गायब युवक के शव की पहचान चार माह बाद हुई। युवक की हत्या की गुत्थी सुलझती चली गई। युवक की पत्नी ने अपने पति की हत्या की साजिश अपने प्रेमी संग रची। युवक दोनों के प्रेम संबंध के बीच में रोड़ा बन रहा था।
पत्नी ने प्रेमी को बुलाया। प्रेमी अपने एक दोस्त को साथ लेकर पहुंचा और प्रेमिका के पति की उसी की बेल्ट से गला घोंटकर हत्या कर दी। शव भी सड़क किनारे फेंक दिया गया। पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी संग तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामला थाना गागलहेड़ी का है। एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक के मुताबिक, गागलहेड़ी में रहने वाले सन्नी का शव चार माह पहले गांव चौरादेव के खेत में मिला था, लेकिन उसकी पहचान नहीं हुई थी। लेकिन चार माह बाद अचानक से युवक की पहचान सन्नी के रूप में हुई। मृतक के परिजनों ने अपनी बहू मंजू पर हत्या करने का शक किया। पुलिस ने शक के आधार पर पूछताछ की। महिला ने अपने पति के हत्या की सारी कहानी पुलिस के सामने बता दी। पुलिस ने महिला के बयान के आधार पर उसके प्रेमी अजय और उसके दोस्त स्वराज को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के मुताबिक, मृतक के माता-पिता के शक के आधार पर उसकी पत्नी मंजू को हिरासत में लिया। पूछताछ में वह टूट गई और उसने मर्डर के सारे राज खोल दिए। इसके साथ ही महिला के प्रेमी अजय ने बताया कि मंजू से वह १२ साल से प्यार करता था। मंजू के मामा उसी के गांव के हैं। मंजू का आना-जाना गांव में रहता था। मंजू और अजय की दोस्ती हुई और फिर प्रेम-संबंध में बदल गई लेकिन दोनों के परिवार के लोग शादी को तैयार नहीं थे।
मंजू के परिजनों ने उसकी शादी गागलहेड़ी में अजय से करा दी। इसके बावजूद दोनों का प्रेम परवान चढ़ता रहा, शादी के बाद भी एक-दूसरे से मिलते थे। दोनों के प्रेम संबंध की खबर सन्नी को भी लग गई, तो सन्नी ने मंजू पर सख्ती बढ़ा दी। मंजू को कहीं आने-जाने नहीं देता था। अजय ने बताया कि सन्नी शराब का आदी था। आरोपी अजय ने बताया कि २८ मई को मंजू ने फोन करके कहा कि उसके पति सन्नी ने बहुत ज्यादा शराब पी रखी है तो उसने बोला कि उसे रास्ते से हटाने का यही अच्छा मौका है। अजय ने बताया कि वो तभी अपने दोस्त स्वराज को बाइक पर लेकर मंजू के घर पहुंच गया। मंजू ने अपने पति सन्नी को हमारी बाइक पर बैठा दिया। सन्नी को बाइक पर बीच में बैठाकर भगवानपुर रोड पर एक सुनसान जगह पर लाए। उसके बाद सन्नी की चमड़े की बेल्ट निकालकर उसका गला घोंट दिया और उसका शव वहीं खेत में फेंक दिया।

अन्य समाचार