मुख्यपृष्ठनए समाचारकेंद्र सरकार की नीतियों का फटका ....महंगी होगी हजामत!

केंद्र सरकार की नीतियों का फटका ….महंगी होगी हजामत!

• एक मई से बढ़ जाएंगे सैलून और ब्यूटी पार्लर के दरें
सामना संवाददाता / मुंबई। केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते महंगाई आसमान छू रही है। पेट्रोल-डीजल और सीएनजी महंगी होने के साथ ही एक तरफ जहां रसोई का टेस्ट बिगड़ गया है तो वहीं निजी वाहनों में यात्रा करना भी अब दुखदाई साबित हो रहा है। ऐसे में केंद्र सरकार की नीतियों का खामियाजा मुंबईकरों को भुगतना पड़ रहा है। खाद्य सामग्री और सब्जियों की कीमतों में वृद्धि के बाद केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों के चलते अब हजामत कराना भी महंगा हो गया है। मुंबई सैलून एवं ब्यूटी पार्लर एसोसिएशन के लोगों ने आगामी १ मई से सैलून की सेवा दर को लगभग ३० प्रतिशत तक बढ़ाने का फैसला किया है।
बता दें कि जनता महंगाई से त्रस्त है। ऊपर से अब हजामत करना भी महंगा होना आग में घी डालने जैसा ही है। अब मुंबई में सैलून और ब्यूटी पार्लर में सेवाओं के लिए लोगों को अपनी जेब लगभग ३० प्रतिशत ज्यादा ढीली करनी होगी। कुछ दिनों पहले ‘मुंबई सैलून एसोसिएशन’ के पदाधिकारियों की बैठक हुई थी। बैठक में सैलून एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने महंगाई को देखते हुए हेयर कटिंग, सेविंग, हेड मसाज सहित तमाम सेवाओं के लिए ३० प्रतिशत दरें बढ़ाने का निर्णय लिया था। इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए मोहम्मद दिलबहार ने बताया कि नई दरें सैलून में लागू हो गई हैं। हालांकि झोपड़पट्टी के कुछ इलाकों में नई दरें अभी भी लागू नहीं हो पाई हैं। आम जनता की गरीबी और उनकी मजबूरियों को समझते हुए कई ठिकानों पर सैलून की नई दरें अभी लागू नहीं की गई हैं लेकिन बांद्रा, सांताक्रुज और अंधेरी जैसे इलाकों में नई दरें लागू कर दी गई हैं।

अन्य समाचार