मुख्यपृष्ठसमाचारजम्मू के मंदिर में तोड़फोड़ पर भड़के शिवसैनिक.... `द कश्मीर फाइल्स' से...

जम्मू के मंदिर में तोड़फोड़ पर भड़के शिवसैनिक…. `द कश्मीर फाइल्स’ से बिगड़ा माहौल!

शिवसैनिकों ने एसएसपी को सौंपा ज्ञापन
सामना संवाददाता / जम्मू । केंद्र सरकार भले ही `द कश्मीर फाइल्स’ के माध्यम से जनता के बीच अपनी वाहवाही लूट रही है लेकिन हकीकत यदि देखी जाए तो इस फिल्म के दिखाने से जम्मू में माहौल खराब हो गया है। फिल्म भले ही पर्दे पर दिखाई जा रही है लेकिन इसका असर अब जम्मू की धरती पर अशांति पैâला कर किया जा रहा है। शिवसेना जम्मू-कश्मीर इकाई ने जम्मू के सिदडा स्थित प्राचीन मंदिर में देर रात हुई तोड़फोड़ की घटना पर एतराज जताते हुए इसे कायरतापूर्ण साजिश करार देते हुए निंदा की है। शिवसेना जम्मू-कश्मीर इकाई प्रमुख मनीष साहनी के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने मंदिर का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया।
मंदिर में मिला ७८६ लिखा हरा झंडा
दो दिन पहले मदिर में मूर्ती खंडित किए जाने के बाद कल जम्मू के रामपुरा इलाके के एक मंदिर में ७८६ लिखा हुआ हरे रंग का झंडा मिला है।‌ जिसे अनजान एवं शरारती तत्वों द्वारा मंदिर की दीवार‌ पर रखा गया था।‌ पुलिस ने मौके पर पहुंच झंड़े को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर‌ दी है।‌ शिवसेना की जम्मू -कश्मीर इकाई ने इस घटना की कड़ी ‌निंदा करते हुए इसे आपसी भाईचारे और जम्मू के‌ शांति को बिगाड़ने की साजिश करार दिया है।
सांप्रदायिक तनाव पैâलाने की साजिश
साहनी ने कहा कि कश्मीर में टारगेट किलिंग के बाद अब जम्मू के आपसी भाईचारे को बिगाड़ने के लिए `द जम्मू फाइल्स’ की पटकथा लिखने एव सांप्रदायिक तनाव पैâलाने की साजिश रची जा रही है। साहनी के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने जम्मू के एसएसपी चंदन कोहली से मुलाकात कर जम्मू-कश्मीर पुलिस प्रशासन से ऐसे समाज विरोधी तत्वों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। इस मौके पर बलवंत सिंह, राज सिंह, सचिव बलवीर सिंह, दीपक शर्मा,राजू हांडा, सुमित अबरोल समेत सैकड़ों की संख्या में शिवसैनिक उपस्थित थे।

अन्य समाचार