मुख्यपृष्ठनए समाचारआम जनता की है शिवसेना-अंबादास दानवे

आम जनता की है शिवसेना-अंबादास दानवे

सामना संवाददाता / मुंबई
हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे एवं शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे के आशीर्वाद से मराठवाड़ा का एक साधारण व्यक्ति विधायक से लेकर प्रतिपक्ष का नेता बनकर आज शिवतीर्थ पर भाषण दे रहा है, इससे यह स्पष्ट होता है कि शिवसेना आम लोगों की पार्टी है। यह बात कल शिवतीर्थ पर दशहरा रैली के अवसर पर अपने भाषण के दौरान विधान परिषद के प्रतिपक्ष के नेता अंबादास दानवे ने व्यक्त की। उन्होंने ‘ईडी’ सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार रोज अनेक घोषणाएं करती है, लेकिन एक भी घोषणा पर अमल नहीं करती। इस सरकार की संवेदना समाप्त हो गई है। अतिवृष्टि के लिए महाविकास आघाड़ी सरकार ने २० हजार करोड़ रुपए की मदद की घोषणा की थी। ‘ईडी’ सरकार ने केवल दो हजार ४०० करोड़ रुपए की घोषणा की है। लेकिन आज तक एक भी किसान तक मदद नहीं पहुंची है, जिसका परिणाम यह हुआ है कि नई सरकार की स्थापना के बाद से अब तक ३७५ किसानों ने आत्महत्या कर ली है। बुलेट ट्रेन के लिए ६,००० करोड़ रुपए मंजूर किए गए लेकिन किसानों को देने के लिए मात्र दो हजार करोड़ रुपए की घोषणा की गई। कानून व्यवस्था को लेकर ‘ईडी’ सरकार पर हमला करते हुए अंबादास दानवे ने कहा कि मंत्रियों से लेकर विधायकों तक पर मस्ती चढ़ी हुई है। शिंदे गुट के विधायक रिवॉल्वर निकालकर फायरिंग करते हैं, वहीं विधायक संजय गायकवाड चुन-चुनकर मारने की बात करते हैं। विधायक प्रकाश सुर्वे एक-एक का हाथ-पैर तोड़ने को कहते हैं। जब सत्ता दल के विधायक ही कानून व्यवस्था को तोड़ रहे हैं तो राज्य में कानून व्यवस्था कहां बची है? प्रशासनिक स्तर पर नई मुंबई के डीसीपी द्वारा शिंदे गुट में न आने पर एनकाउंटर करने की शिवसैनिक को धमकी देने पर दानवे ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा कि आज सत्ता तुम्हारी है तो कल हमारी भी सत्ता आएगी, इस बात को याद रखना। हिंदुत्व की वकालत करनेवाले शिंदे गुट के मंत्री अब्दुल सत्तार पर हमला बोलते हुए दानवे ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र में एक ग्राम पंचायत का नाम औरंगजेब रखा गया है और मुख्यमंत्री हिंदुत्व की बात करते हैं।

अन्य समाचार