मुख्यपृष्ठनए समाचारशिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ही रहेगा समृद्धि महामार्ग का नाम

शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ही रहेगा समृद्धि महामार्ग का नाम

  • विपक्ष की मांग पर राज्य सरकार ने किया स्वीकार

सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य की राजधानी मुंबई और उपराजधानी नागपुर को जोड़नेवाले मुंबई-नागपुर समृद्धि महामार्ग का नाम ‘हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे’ ही रहेगा। यह स्पष्टीकरण कल विधानसभा में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने दिया। इससे पहले नेता प्रतिपक्ष अजीत पवार ने सवाल उठाया था कि पूरक मांग में समृद्धि महामार्ग के नाम में शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे का उल्लेख नहीं किया गया है।
पूरक मांग की चर्चा में हिस्सा लेते हुए पवार ने मुंबई के स्काईवॉक का भी मुद्दा उठाया। इसके जवाब में मुख्यमंत्री शिंदे ने कहा कि मुंबई में रेलवे स्टेशनों को जोड़ने के लिए जगह-जगह बनाए गए स्काईवॉक का रिव्यू किया जाएगा। मुंबई शहर में एमएमआरडीए ने कई स्थानों पर स्काईवॉक बनाए हैं। इनकी देखभाल की जिम्मा मनपा को दिया गया है। जहां स्काईवॉक उपयोग में नहीं आ रहे हैं, उनका रिव्यू कर निर्णय लिया जाएगा।
वरिष्ठ नागरिकों को ध्यान में रखते हुए स्काईवॉक में लिफ्ट या एस्केलेटर लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि नागपुर से गडचिरोली तक बन रहे समृद्धि महामार्ग को हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे का नाम दिया गया है। इसके पहले नियोजन विभाग की पूरक मांगों पर हुई चर्चा के जवाब में उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सरकार प्रयास करेगी कि किसी के साथ अन्याय नहीं हो। हमारी सरकार ने पिछली सरकार के किसी भी फैसले  को स्थगित नहीं किया है। नए पालक मंत्री नियुक्त होने के बाद समीक्षा कर योजनाओं को फिर से शुरू किया जाएगा।

अन्य समाचार