मुख्यपृष्ठनए समाचारबिजली उपभोक्ताओं को ‘शॉक'! ... १० से १८ फीसदी तक बढ़ेगा बिल

बिजली उपभोक्ताओं को ‘शॉक’! … १० से १८ फीसदी तक बढ़ेगा बिल

१०० यूनिट तक १८ फीसदी, १०१ से ३०० यूनिट तक ७ फीसदी, ३०१ से ५०० यूनिट पर १० फीसदी होगी दरों में वृद्धि
सामना संवाददाता / मुंबई
एक तरफ जहां बेतहाशा महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ दी है तो दूसरी तरफ ‘बेस्ट’ ने अपने उपभोक्ताओं को बिजली दर वृद्धि का ‘शॉक’ दिया है। बताया गया है कि करीब १० से १८ फीसदी तक दरों में वृद्धि होगी। इसमें १०० यूनिट प्रतिमाह तक बिजली खपत पर करीब १८ प्रतिशत, १०१ से ३०० यूनिट तक ७.०३ प्रतिशत, ३०१ से ५०० यूनिट तक १०.९ प्रतिशत और ५०० से अधिक बिजली खपत होने पर ११.७९ प्रतिशत की दर वृद्धि होगी। कुल मिलाकर दर में बढ़ोतरी से सबसे ज्यादा नुकसान १०० यूनिट तक बिजली खपत करनेवाले छोटे उपभोक्ताओं को होगा।
‘बेस्ट’ की तरफ से मुंबईकरों को परिवहन सेवाओं के साथ-साथ बिजली की भी आपूर्ति की जाती है। बेस्ट के बिजली विभाग में १०.८० लाख बिजली उपभोक्ता हैं, जिन्हें प्रशासन की ओर से हर माह बिल भेजा जाता है। हर साल इस बिल में वृद्धि का अधिकार है। इसके लिए राज्य विद्युत नियामक आयोग के अनुमोदन की आवश्यकता होती है। लेकिन पिछले दो साल से कोरोना काल में ‘बेस्ट’ ने बिजली के दाम नहीं बढ़ाए। हालांकि, इस साल बिजली के दाम बढ़ाने का पैâसला किया गया है। इस संबंध में प्रस्ताव ‘बेस्ट’ प्रशासन द्वारा विद्युत नियामक आयोग के पास मंजूरी के लिए भेजा गया है। ‘बेस्ट’ प्रशासन ने जानकारी दी है कि अगर इसे मंजूरी मिलती है तो अप्रैल से दरों में वृद्धि लागू कर दी जाएगी।

एक महीने में दूसरा झटका
‘बेस्ट’ ने पिछले महीने से उपभोक्ताओं को दो बिलों को सुरक्षा जमा राशि के रूप में भरने का निर्देश दिया है। इसका उपभोक्ताओं ने कड़ा विरोध किया है। शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे), कांग्रेस ने भी इसको लेकर आंदोलन किया है। एक महीने में एक बार फिर से ‘बेस्ट’ की तरफ से ‘शॉक’ लगेगा। ऐसे में इस पैâसले का कड़ा विरोध होने की संभावना है।

वर्तमान बिजली उपभोक्ता निवासी व व्यावसायिक दर
० से १०० यूनिट : २.९३ रुपए
१०१ से ३०० यूनिट : ५.१८ रुपए
३०१ से ५०० यूनिट : ७.७९ रुपए
५०१ से १,००० यूनिट : ९.०२ रुपए

अन्य समाचार