मुख्यपृष्ठस्तंभश्री-वास्तव उ-वाच : दुल्हन दस, बंदा एक

श्री-वास्तव उ-वाच : दुल्हन दस, बंदा एक

अमिताभ श्रीवास्तव

दुनिया ऐसी है, जहां अजीबोगरीब घटनाएं देखने-सुनने को मिलती रहती हैं। अब देखिए न, एक शख्स ने एक साथ १० लड़कियों के साथ शादी कर ली। अमेरिका के न्यूयॉर्क में रहने वाले २८ साल के युवक ने ऐसा किया। इमैनुएल लस्टिन नाम के युवक ने बीच सेरेमनी में १० महिलाओं के साथ क्रिश्चियन रीति-रिवाज से शादी रचाकर सोशल मीडिया पर कोहराम मचा दिया है। मीडिया पर इमैनुएल लस्टिन और उसकी १० पत्नियों के साथ एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में देख सकते हैं कि नौ दुल्हनें अपने दूल्हे के चारों ओर चक्कर लगा रही हैं। उन्होंने सफेद रंग के बेहद छोटे कपड़े पहन रखे हैं। हाथों में फूलों का गुलदस्ता है, वहीं एक दुल्हन को गोद में लेकर इमैनुएल बैठा हुआ है। लस्टिन ने ३१ जुलाई को शादी की। हालांकि, इमैनुएल लस्टिन की ये शादी कानूनी रूप से गलत है। इसे शादी की मान्यता नहीं मिलनेवाली है। दरअसल, वो जहां रहते है वहां बहुविवाह को मान्यता नहीं है। तो अब या तो उसे अपनी दसों पत्नियों को लेकर बाहर रहना होगा या अपने शहर की जेल में।

जन्मदिन और तलवार
भला किसी के जन्मदिन पर तलवार का क्या काम? किंतु आजकल जोश ऐसा होता है कि लोग होश ही खो बैठते हैं। जन्मदिन के उत्साह में नियम-कानून की परवाह किए बिना एक युवक ने तलवार से केक काटा, जिसकी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। पूरा मामला यूपी के अमेठी जिले के मुसाफिरखाना कोतवाली क्षेत्र का बताया जा रहा है, जहां बर्थडे पार्टी के दौरान कुछ युवक बीच सड़क पर यातायात बाधित करते हुए तलवार से केक काटते नजर आ रहे हैं। युवक खूब जश्न मना रहे हैं और उन्हें किसी भी प्रकार का कोई खौफ नहीं है। इसका वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो यही जन्मदिन उनके लिए जेल जाने का कारण बन गया। अब पुलिस युवकों की तलाश कर रही है। फिलहाल, वायरल वीडियो सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। वहीं पूरे मामले पर थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है। वायरल वीडियो की जांच कर कड़ी से क़ड़ी कार्रवाई की जाएगी। वायरल वीडियो में दिख रहे युवकों को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

सावधान, यह सुसाइड प्लांट है!
सावधान! यह सुसाइड प्लांट है। छुआ कि आपको आत्महत्या करनी ही पड़ेगी। है न अजीब बात, मगर एकदम सच है। दरअसल, एक पौधा है, जिसका नाम है जिम्पाई। इसे `सुसाइड प्लांट’ भी कहा जाता है। इसे छूने पर इसका डंक त्वचा में चिपक जाता है, जो निकाले न जाने पर एक साल तक परेशान कर सकता है। इसका कांटा बिजली के झटके और गर्म तेजाब का अहसास करवाता है। `दुनिया का सबसे खतरनाक’ पौधा है यह। हालांकि, देखने में यह किसी साधारण पौधे जैसा ही लगता है। लेकिन छूने पर इसका डंक आपको एक ही साथ गर्म एसिड से जलने और बिजली के झटके का अहसास कराता है। कहा जाता है कि यह पौधा लोगों को तड़पाकर खुदकुशी के लिए मजबूर कर देता है और इसलिए इसे `सुसाइड प्लांट’ भी कहते हैं। इतने खतरे के बावजूद ब्रिटेन में एक शख्स ने अपने घर में यह पौधा उगाया है, क्योंकि वह अपने पुराने पौधों से ऊब गया था। उसने इस प्लांट को एक पिंजरे में बंद करके रखा है, जिस पर `खतरे’ का निशान बना हुआ है। तो संभल के रहना होगा। छूना नहीं है।

जहां प़ढ़ीं वहीं की बनीं प्रिंसिपल, अब कुलपति
यह कितना अद्भुत संयोग होता है कि आप जहां पढ़ो आगे जाकर उसी जगह के प्रिंसिपल बन जाओ। एक अलहदा रोमांच है यह। जी हां, गुजरात टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति के तौर पर महिला प्रोफेसर राजुल गज्जर की नियुक्ति हुई है। २००७ में बनी जीटीयू के इतिहास में प्रो. राजुल गज्जर पहली महिला होंगी, जो कुलपति के दायित्व को संभालेंगी। प्रो. राजुल गज्जर अभी तक एल डी इंजीनियरिंग कॉलेज की प्राचार्य थीं। हालांकि, इससे पहले वे २०१६ में जीटीयू की कार्यकारी कुलपति बनी थीं। उन्हें ३८ साल का अनुभव है। प्रो. राजुल गज्जर ३१ अक्टूबर को रिटायर होने वाली थीं। इससे पहले राज्य सरकार ने उन्हें कुलपति बनाया है। राजुल गज्जर ने एल डी इंजीनियरिंग कॉलेज से ग्रेजुएशन और पीजी की पढ़ाई की थी। इसके बाद वे आगे चलकर एल डी इंजीनियरिंग कॉलेज की प्राचार्य बनीं। कितना सुखद लगता है, जहां सहेलियों के साथ मस्ती की, पढ़ाई की वहीं आप प्राचार्या बनकर आर्इं और एक अलग तरह से अपनी स्मृतियों से रू-बरू हुर्इं।

लेखक ३ दशकों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं व सम सामयिक विषयों के टिप्पणीकर्ता हैं। धारावाहिक तथा डॉक्यूमेंट्री लेखन के साथ इनकी तमाम ऑडियो बुक्स भी रिलीज हो चुकी हैं।

अन्य समाचार