मुख्यपृष्ठनए समाचारमेट्रो में नहीं चलेगी चालाकी एक्सेस सिस्टम है सुरक्षित!

मेट्रो में नहीं चलेगी चालाकी एक्सेस सिस्टम है सुरक्षित!

• एक टिकट पर डबल जर्नी है असंभव
• यात्रियों का मिल रहा अच्छा प्रतिसाद

सुजीत गुप्ता / मुंबई । मुंबई में मेट्रो-२ए और मेट्रो-७ मार्ग पर कमर्शियल रन की शुरुआत सोमवार से हो गई। परिचालन के पहले दिन मुंबईकरों का मेट्रो को अच्छा रिस्पॉन्स मिला। हालांकि मेट्रो सेवा के परिचालन के दौरान कुछ स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर और मेट्रो के दरवाजों के खुलने से संबंधित कुछ तकनीकी गड़बड़ी भी सामने आई जो कि साधारण थी। जहां तक बात मेट्रो सुरक्षा की करें तो प्रत्येक स्टेशनों पर अंदर और बाहर जाने के लिए मेट्रो का एक्सेस सिस्टम काफी सुरक्षित पाया गया है। यदि कोई भी यात्री सिंगल जर्नी टिकट लेकर उसी टिकट पर रिटर्न यात्रा पूरी कर यदि स्टेशन परिसर से बाहर निकलने की चालाकी करता है तो ये उसके लिए असंभव है। ‘दोपहर का सामना’ के संवाददाता ने कल मेट्रो के इसी एक्सेस सिस्टम को जानने के लिए मेट्रो स्टेशनों की ग्राउंड रिपोर्टिंग की।
बता दें कि कल मेट्रो सिस्टम का जायजा लेने के लिए संवाददाता ने दहिसर ईस्ट से दहानूकरवाड़ी का टिकट निकाला। मकसद, सिंगल टिकट निकालकर उसी पुराने टिकट से रिटर्न जर्नी पूरी कर वापस दहिसर ईस्ट मेट्रो स्टेशन से बाहर निकलने का एक्सेस पाना था। दहिसर से दहानूकारवाड़ी का सफर तय करने के बाद जब बिना टिकट रिटर्न जर्नी कर दहिसर ईस्ट स्टेशन पहुंचा गया तो पहले पुराने टिकट पर स्टेशन से बाहर जाने का एक्सेस नहीं मिला। इसके बाद किसी दूसरे यात्री के टिकट पर बाहर जाने के लिए एक्सेस पाने की कोशिश की भी गई तो उसमे भी असफलता ही हाथ लगी। ऐसे में यह माना जा सकता है कि कोई यात्री सिंगल जर्नी टिकट निकालकर दोबारा बोर्ड किए गए स्टेशन से बाहर निकलने का एक्सेस पा जाए तो ये मुमकिन नहीं है। तो यह कहा जा सकता है कि सुरक्षा और बिना टिकट यात्रा के मामले में मेट्रो स्टेशनों का एक्सेस सिस्टम पूरी तरह से पुख्ता है।

मेट्रो लाइन २ए और मेट्रो ७ लाइन को मुंबईकरों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। कमर्शियल रन के पहले दिन सोमवार को शाम ६ बजे तक दोनों लाइन पर कुल मिलाकर १५,८०० यात्रियों ने मेट्रो सफर का आनंद उठाया, जबकि रात ७ बजे तक यह आंकड़ा बढ़कर १९,७९५ हो गया था। फिलहाल रोजाना दोनों लाइन पर कुल मिलकर १५० मेट्रो सेवाएं संचालित की जा रही हैं।

अन्य समाचार