मुख्यपृष्ठनए समाचार...तो फडणवीस से सटकर कैसे बैठ गए भुजबल?-कांग्रेस ने पूछा सवाल

…तो फडणवीस से सटकर कैसे बैठ गए भुजबल?-कांग्रेस ने पूछा सवाल

सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य के खाद्य आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल द्वारा ब्राह्मण समुदाय के खिलाफ दिए बयान को लेकर उनकी चारों तरफ निंदा हो रही है। अब कांग्रेस ने भी उनके ऊपर हमला बोलते हुए तीखा सवाल पूछा है। कांग्रेस ने भुजबल से सवाल किया है कि जब भुजबल को ब्राह्मण समुदाय से इतनी आपत्ति है तो वे देवेंद्र फडणवीस से सटकर वैâसे बैठ गए?
भुजबल ने शनिवार को ब्राह्मण समुदाय को लेकर विवादित बयान दिया था। भुजबल ने कहा था कि ब्राह्मण समुदाय के लोग अपने बच्चों के नाम संभाजी और शिवाजी नहीं रखते हैं। उनके इस बयान के बाद ब्राह्मण महासंघ समेत राजनीतिक स्तर पर भी उनकी जमकर आलोचना हो रही है। कांग्रेस ने भी उनके खिलाफ बयान जारी कर आलोचना की है। कांग्रेस के प्रवक्ता काकासाहेब कुलकर्णी ने भुजबल की आलोचना करते हुए कहा कि छगन भुजबल महाराष्ट्र की राजनीति में कम बुद्धि के व्यक्ति हैं। साथ ही उन्होंने पूछा है कि अगर छगन भुजबल को ब्राह्मण समुदाय को लेकर इतनी आपत्ति है तो फिर वह देवेंद्र फडणवीस से सटकर सत्ता में वैâसे बैठे हैं? कुलकर्णी ने कहा कि छगन भुजबल ने जिन सावित्रीबाई फुले और ज्योतिराव फुले के नाम पर राजनीति की है। उनकी एक भी पुस्तक ठीक से नहीं पढ़ी है। भुजबल अपनी ओर से गलत इतिहास बता रहे हैं। सावित्री माता ने एक किताब लिखी है। उस किताब का नाम काव्यफुले है। उस किताब में उन्होंने स्कूल को सरस्वती माता का दरबार कहा है। क्या छगन भुजबल इससे इनकार करेंगे? मुझे नहीं पता वे कितना पढ़ते हैं? लेकिन यह पता लगाने की आवश्यकता है कि उनकी डिग्री क्या है? कुलकर्णी ने कहा कि छगन भुजबल सावित्री माता और ज्योतिराव फुले के साहित्य को नकारने का पाप कर रहे हैं।

अन्य समाचार