मुख्यपृष्ठनए समाचारराजस्थान के शिक्षक तो गजब हैं... पहले खाना बनाओ फिर परीक्षा देने...

राजस्थान के शिक्षक तो गजब हैं… पहले खाना बनाओ फिर परीक्षा देने जाओ!

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

वैसे बीजेपी सरकार हमेशा से ही यह दावा करती आई है कि उनके राज में बेटियां अधिक सुरक्षित हैं। उनकी पार्टी द्वारा हमेशा यह दावा किया जाता है कि उनकी पार्टी की सरकारें उस राज्य की बेटियों की साक्षरता पर जोर देते हैं। उनकी सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाती हैं। लेकिन राजस्थान में, जहां बीजेपी की सरकार हाल ही स्थापित हुई है, वहां के शिक्षकों का एक वीडियो देखने को मिला, इस अजब वीडियो में शिक्षक द्वारा एक छात्रा को परीक्षा देने के पहले खाना बनाने का आदेश दिया गया। बेचारी उस छात्रा ने भी अपने शिक्षक की बात मानी और उनके लिए खाना बनाया और उसके बाद परीक्षा दी। उदयपुर की यह घटना ये सोचने के लिए मजबूर कर रही है कि आखिर ऐसे आदेश कोई शिक्षक वैâसे दे सकता है।
बता दें कि पीपलखूंट उपखंड क्षेत्र के रोहनिया गांव के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सोमवार को १०वीं की एक छात्रा को परीक्षा देने से पहले शिक्षकों ने विद्यालय में खाना बनवाया। छात्रा का खाना बनाते हुए वीडियो वायरल होने के बाद ग्रामीणों ने कलेक्टर को शिकायत दर्ज कराते हुए शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
ग्रामीणों ने कलेक्टर इंद्रजीत यादव को बताया कि सोमवार को दोपहर १२:३० बजे १०वीं की छात्रा रवीना मीणा निवासी रोहनिया परीक्षा देने विद्यालय आई थी। परीक्षा देने से पहले अध्यापकों और स्टाफ ने रवीना को खाना बनाने के लिए बोला। रवीना ने खाना बना कर खिलाया, जबकि वहां पर खाना बनाने के लिए तीन कर्मचारी नियुक्त कर रखे हैं फिर भी स्टाफ ने रवीना को खाना बनाने के लिए मजबूर किया। ग्रामीणों ने कलेक्टर को दर्ज कराई शिकायत में अध्यापकों पर स्वूâल में देरी से पहुंचने का भी आरोप लगाया।

अन्य समाचार