मुख्यपृष्ठखेलखेल-खिलाड़ी : भारत व न्यूजीलैंड बेहतरीन!

खेल-खिलाड़ी : भारत व न्यूजीलैंड बेहतरीन!

संजय कुमार

बांग्लादेश को हराने के बाद दक्षिण अफ्रीका अब अंकतालिका में न्यूजीलैंड के साथ ८ अंक लेकर दूसरे स्थान पर है। भारत पांच मैचों में पांच जीत के साथ १० अंक लेकर शीर्ष पर बना हुआ है। अफगानिस्तान से करारी हार के बाद पाकिस्तान के अभी भी ४ अंक ही हैं। वह ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान के साथ तीसरे नंबर पर है। बांग्लादेश ने ५ मैच खेले हैं, जबकि नीदरलैंड, श्रीलंका, इंग्लैंड और अफगानिस्तान ने ४-४ मैच खेले हैं, मगर जीत हर टीम को १ मैच में ही मिली है यानी ये सभी टीमें निचले पायदान पर हैं। इन टीमों के सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद धूमिल हो गई है।
अभी तक के प्रदर्शन पर गौर करें तो भारत, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका की टीमों का सेमीफाइनल तक पहुंचना तय माना जा सकता है। सेमीफाइनल तक पहुंचने के लिए ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच में ही स्पर्धा होनी है। हालांकि, अफगानिस्तान से हारने के बाद पाकिस्तान का मनोबल टूटने लगा है। उसे अब दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड से खेलना है। ये सभी मैच उसे जीतने होंगे। साथ ही अंकतालिका में पाकिस्तान चौथे नंबर पर आखिर तक तभी बना रह पाएगा, जब ऑस्ट्रेलियाई टीम एक-दो मैच हार जाए। ऑस्ट्रेलिया को आगे नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से खेलना है। इस अगर-मगर में पाकिस्तान के लिए सेमीफाइनल तक पहुंचने का रास्ता दुर्गम हो गया है। अब तो अंकतालिका में चौथे नंबर पर अफगानिस्तान भी इनके साथ खड़ा है। अफगानिस्तान को आगे श्रीलंका, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका से खेलना है।
शुरुआती मैचों में भारत और दक्षिण अफ्रीका से हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया का प्रदर्शन सुधरने लगा है। ८८ गेंदों के शेष रहते ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका के खिलाफ जीत के लक्ष्य को हासिल किया और पाकिस्तान को ३६७ रनों का लक्ष्य देकर उसे ३०५ रनों पर समेट दिया। तेज गेंदबाज पैट कमिंस, मिचेल स्टार्क, लेग स्पिनर एडम जांपा अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं। श्रीलंका और पाकिस्तान के बल्लेबाजों पर जांपा पूरी तरह हावी रहे। इन दो मैचों में जोरदार प्रदर्शन के बाद से ऑस्ट्रेलियाई टीम लय में आ गई है।
दक्षिण अफ्रीका ने पहले ही मैच में ४२८ रनों का विशाल लक्ष्य देकर श्रीलंका को पूरी तरह से दबाव में ला दिया। इसके बाद अगले मैच में ऑस्ट्रेलिया के समक्ष जीत के लिए ३११ रनों का लक्ष्य निर्धारित कर दिया। श्रीलंका को १०२ रनों से तो ऑस्ट्रेलिया को १३४ रनों के भारी अंतर से पछाड़ दिया। इसके बाद शायद उसने नीदरलैंड को हलके में ले लिया और उसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ा। अगले ही मैच में दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किए गए प्रदर्शन को इंग्लैंड के खिलाफ दोहरा दिया। उसने इस मैच में भी ३९९ रनों का विशाल लक्ष्य देकर इंग्लैंड की पारी मात्र २२ ओवर में १७० रन पर समेट दी। टूर्नामेंट में हेनरिक क्लासेन, डीकॉक, डुसेन और एडेन मार्करम शतक लगा चुके हैं। गेंदबाज लुंगी एनगिडी, मार्को जानसेन, कागिसो रबाडा, केशव महाराज, गेराल्ड कोएट्जी कसी हुई गेंदबाजी कर रहे हैं। दक्षिण  अफ्रीका का ऑलराउंडर प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। वर्तमान में यही टीम चैंपियन जैसा खेल रही है।
पाकिस्तान ने अपने पहले ही मैच में ३४४ रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका को रोमांचक मैच में ६ विकेट से पराजित किया। अब्दुल्लाह शफीक और मो. रिजवान ने शतकीय पारी खेली। श्रीलंका की तरफ से भी कुशल मेंडीस और सदीरा समरविक्रमा ने शतक बनाए। दोनों ही टीमों के बीच जबरदस्त मुकाबला देखने को मिला था। पाकिस्तान के गेंदबाज शाहीन आफरीदी, हसन अली, हारीस रऊफ ने अच्छी गेंदबाजी की थी, मगर अब पाकिस्तान के प्रदर्शन का स्तर बेहतर होने की बजाय और गिरने लगा है। अफगानिस्तान के बल्लेबाजों के खिलाफ पाकिस्तान के गेंदबाज पूरी तरह असफल रहे। इन गेंदबाजों के सामने आगे के मैचों में दक्षिण अप्रâीका और न्यूजीलैंड के बल्लेबाज होंगे। टूर्नामेंट में आगे बढ़ने के लिए पाकिस्तान के बल्लेबाजों और गेंदबाजों को हर हाल में अच्छा खेलना होगा।

अन्य समाचार