मुख्यपृष्ठसमाचारएसआरए करेगा रमाबाई नगर पुनर्विकास का सर्वे...`४,००० करोड़ होंगे खर्च!

एसआरए करेगा रमाबाई नगर पुनर्विकास का सर्वे…`४,००० करोड़ होंगे खर्च!

-एमएमआरडीए ने की लोन की मांग… ७५ एकड़ में पैâला है झोपड़पट्टी क्षेत्र

सामना संवाददाता / मुंबई

मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने घाटकोपर में ईस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे के पास स्थित लगभग ७५ एकड़ में बसी झोपड़पट्टी, रमाबाई अंबेडकर नगर के विकास के लिए ४,००० करोड़ रुपए का ऋण लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस प्रक्रिया में एमएमआरडीए ने लोन के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट जारी किया है। अधिकारी ने बताया कि फंड का इस्तेमाल पुनर्विकास से जुड़े सभी कामों के लिए किया जाएगा। बता दें कि एमएमआरडीए ने इस प्रोजेक्ट के लिए पहले ही डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की थी। मिली जानकारी के अनुसार, लोन के नियम और शर्तें ५ फरवरी एमएमआरडीए द्वारा प्रचारित की जाएंगी और रीपेमेंट की अवधि १५ वर्ष होने की संभावना है। एमएमआरडीए ६,५७५ झोपड़पट्टी वासियों को पुनर्वास प्रदान करने में सक्षम होगा। साथ ही यह कार्यान्वयन अधीन विभिन्न परियोजनाओं के कारण प्रभावित व्यक्तियों के लिए ५,००० और मकान प्राप्त करने में सक्षम होगा।
एसआरए द्वारा किया जाएगा सर्वे
मिली जानकारी के अनुसार, स्लम पुनर्वास प्राधिकरण (एसआरए) द्वारा झोपड़पट्टी में रहनेवालों का सर्वे किया जाएगा, जो एमएमआरडीए को खाली जमीन का कब्जा सौंपने के लिए भी जिम्मेदार है। जिस दिन एसआरए द्वारा जमीन सौंपी जाएगी, उस दिन से प्रोजेक्ट को एक्जीक्यूट करने में प्राधिकरण को ३ साल लगेंगे। बता दें कि एमएमआरडीए की प्राथमिक भूमिका बुनियादी ढांचे का विकास करना है, जिसमें सड़क परियोजनाएं, फ्लाईओवर और मेट्रो कॉरिडोर शामिल हैं। यह पहली बार है कि विकास निकाय स्लम पुनर्विकास परियोजना में शामिल होगा।
वित्तीय रूप से भी लाभदायक
याद दिला दें कि एसआरए परियोजना को क्रियान्वित करने का प्रस्ताव १२ दिसंबर को प्राधिकरण के समक्ष रखा गया था। एमएमआरडीए का अनुमान है कि यदि विकास एजेंसी द्वारा आवासीय मकानों का निर्माण किया जाता है, तो उन्हें बिक्री से १,०७३ करोड़ रुपए की कमाई होगी। हालांकि, यह २,९१८ करोड़ रुपए कमाने में सक्षम होगा। यदि बिक्री एक डेवलपर को बेचा जाता है, जो फिर बाजार में अपने आवास स्टॉक का निर्माण और बिक्री करेगा। तब यह सौदा विकास एजेंसी के लिए वित्तीय रूप से भी लाभदायक होगा, जो राजस्व बढ़ाने के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहा है।

अन्य समाचार