मुख्यपृष्ठसमाचारसुलखान सिंह ने बांके बिहारी मंदिर पहुंच जुटाए तथ्य - पूर्व डीजीपी...

सुलखान सिंह ने बांके बिहारी मंदिर पहुंच जुटाए तथ्य – पूर्व डीजीपी अधिकारियों की जवाबदेही की भी कर रहे जांच 

कमलकान्त उपमन्यु
मथुरा। वृंदावन में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में मंगला आरती के दौरान मची भगदड़ से दो श्रद्धालु की मौत के मामले में उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश पर पूर्व डीजीपी जांच करने पहुंचे। उन्होंने मथुरा जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बांके बिहारी मंदिर और उसके आसपास जांच की।

बांके बिहारी मंदिर में हुए हादसे की जांच को गठित समिति के अध्यक्ष पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह बुधवार को एक बार फिर पूरे प्रशासनिक अमले के साथ बांके बिहारी मंदिर परिसर पहुंचे। सेवायत गोस्वामी समाज के साथ मंदिर प्रबंधन से भी तमाम बिंदुओं पर जानकारी हासिल की। उन्होंने बताया कि आगामी दो दिनों तक इस मामले में सुझाव व घटना से जुड़ी जानकारी आम लोगों से ली जाएगी। पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह ने गोस्वामी समाज के लोगों से इस घटना के समय के घटनाक्रम को बिंदुवार तरीके से समझा। इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने बताया कि घटना कैसे हुई व्यवस्था में चूक और आगामी पर्व पर ऐसे हादसे से निपटने के उपाय आदि बिंदुओं को लेकर अपनी जांच आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने बताया कि समिति के सदस्य अलीगढ़ के मंडलायुक्त गौरव दयाल बुधवार शाम को मथुरा पहुंचेंगे। गुरुवार व शुक्रवार को टूरिस्ट फैसिलिटी सेंटर पर आम लोगों से सुझाव व घटना से जुड़ी जानकारी मांगी है। उनके अनुसार निर्धारित समय पर जांच पूरी कर शासन को रिपोर्ट सौंपी जाएगी।

इस अवसर पर डीएम नवनीत सिंह चहल, एसएसपी अभिषेक यादव, मथुरा वृंदावन विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष नागेंद्र प्रताप, सिटी मजिस्ट्रेट सौरभ दुबे, सीओ सदर प्रवीण मलिक बांके बिहारी मंदिर प्रबंधक मनीष शर्मा आदि उपस्थित रहे।

अन्य समाचार