मुख्यपृष्ठनए समाचारजदयू के पूर्व विधायकों की ‘सुप्रीम' जीत!  स्पीकर को नहीं है पूर्व...

जदयू के पूर्व विधायकों की ‘सुप्रीम’ जीत!  स्पीकर को नहीं है पूर्व विधायकों का दर्जा छीनने का अधिकार

  • सर्वोच्च न्यायालय ने किया साफ

सामना संवाददाता / पटना
जदयू के विधायकों की २०१४ में हुए निलंबन मामले की सुनवाई करते हुए कल सर्वोच्च न्यायालय ने महत्वपूर्ण निर्णय सुनाया। सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया कि संविधान की १०वीं अनुसूची के तहत किसी विधायक के खिलाफ अयोग्यता याचिका पर निर्णय लेते समय विधानसभा अध्यक्ष को पूर्व विधायक का दर्जा वापस लेने का अधिकार नहीं है। न्यायालय ने यह आदेश जदयू के तत्कालीन चार विधायकों ज्ञानेंद्र कुमार सिंह, रवींद्र राय, नीरज कुमार सिंह और राहुल कुमार की अपील पर पारित किया। इन विधायकों को ११ नवंबर २०१४ को बिहार विधानसभा के तत्कालीन अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने अयोग्य घोषित करने के साथ पूर्व विधायक का दर्जा भी छीन लिया था। इससे वे पेंशन और अन्य लाभों से वंचित हो गए थे। मुख्य न्यायाधीश यू. यू. ललित की अध्यक्षता वाली पीठ ने ४ अयोग्य विधायकों के पूर्व विधायकों का दर्जा बहाल कर दिया है, जिससे वे पेंशन और अन्य लाभों के हकदार होंगे। पीठ ने यह भी कहा कि १५वीं विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो चुका है, इसलिए वह उस मूल मुद्दे पर गौर नहीं करेगी कि क्या अयोग्यता असंवैधानिक थी।

अन्य समाचार