मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबईकरों का खून चूस रहा स्वाइन फ्लू

मुंबईकरों का खून चूस रहा स्वाइन फ्लू

सामना संवाददाता / मुंबई

महाराष्ट्र में सबसे अधिक मामले मुंबई में

मुंबई में इस साल डेंगू और मलेरिया की तरह ही स्वाइन फ्लू भी लोगों का खून चूस रहा है। पिछले १० महीनों के आंकड़ों पर नजर डालने पर पता चलता है कि महाराष्ट्र में सबसे अधिक मामले मुंबई में दर्ज किए गए हैं। इस अवधि में स्वाइन फ्लू के १,८६९ केस सामने आए हैं, जबकि प्रदेश में यह संख्या ३,२०६ है। इनमें से एच३एन२ के २,०६१ और एच१एन१ के १,१७५ रोगी शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों में एच३एन२ तेजी से पैâल रहा है, जो चिंता का विषय है।
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, मुंबई में १,८६९ मामलों के बाद ५९० मामलों के साथ ठाणे दूसरे, जबकि ४६० मामलों के साथ पुणे तीसरे स्थान पर है। इसके अलावा इस वर्ष अब तक इन्फ्लूएंजा से कुल ३६ मौतें हुई हैं। उनमें से २८ लोगों की मौत एच१एन१ के कारण हुई, जबकि आठ की मौत एच३एन२ के कारण हुई। आंकड़ों से स्पष्ट रूप से पता चला है कि एच१एन१ की तुलना में कम प्रतिरक्षा वालों में एच३एन२ स्ट्रेन तेजी से पैâल रहा है।
निगरानी रखने का निर्देश
स्वास्थ्य सेवा संयुक्त निदेशक प्रताप सिंह सर्निकर के मुताबिक, सभी जिला स्वास्थ्य अधिकारियों, सिविल सर्जनों के साथ ही चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारियों को कोविड और इन्फ्लूएंजा मामलों की नियमित निगरानी करने का निर्देश दिया है। राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए गए हैं।
मौसम की स्थिति और जलवायु प्रभाव
जेजे अस्पताल में वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. मधुकर गायकवाड़ ने कहा है कि जब भी तापमान में गिरावट होती है तब इन्फ्लूएंजा के मामले बढ़ जाते हैं। इस साल रुक-रुककर बारिश होती रही और तापमान ऊपर से नीचे की ओर बढ़ता रहा, जिसके कारण मामले बढ़े हैं।

बढ़ते मामलों से डॉक्टर चिंतित

चिकित्सकों ने विशेषकर बुजुर्गों और स्कूली बच्चों में एच१एन१ के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई है। उनका कहना है कि हमने पिछले दो हफ्तों में एच१एन१ के लगभग चार मामले देखे हैं। वे मध्यम आयु वर्ग से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति हैं, जिन्हें गंभीर राइनोरिया, खांसी, सर्दी और शरीर में दर्द की शिकायत थी। उनके अस्पताल में भर्ती होने पर हमने पाया कि उनमें कम ऑक्सीजन थी। चिकित्सक शहर में बढ़ते मामलों को लेकर चिंतित हैं।

अन्य समाचार