मुख्यपृष्ठस्तंभसेहत का तड़का : तुझको चलना होगा... मालविका मोहनन की फिट...

सेहत का तड़का : तुझको चलना होगा… मालविका मोहनन की फिट बॉडी का सीव्रेâट है हाइकिंग

  • एस.पी.यादव

दक्षिण की सबसे ग्लैमरस और फिट अभिनेत्रियों में से एक मालविका मोहनन का जन्म ७ अगस्त १९९४ को केरल के कन्नूर में हुआ। इंस्टाग्राम और फेसबुक पर निरंतर अपनी फिटनेस और घुमक्कड़ी के वीडियो शेयर करनेवाली मालविका का मानना है कि केवल वजन घटाना-बढ़ाना भर फिटनेस नहीं, बल्कि यह जीवनशैली है। हमेशा सक्रिय रहना और भोजन के मामले में सजग रहना ही फिटनेस का मूलमंत्र है।
केरल में जन्मी मालविका मुंबई में पली-बढ़ी और यहीं के विल्सन कॉलेज से मास मीडिया में ग्रेजुएशन किया। बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों के मशहूर छायाकार अपने पिता के. यू. मोहनन के साथ एक फेयरनेस क्रीम के विज्ञापन की शूटिंग के सेट पर पहुंची मालविका को जब सुपरस्टार ममूटी ने देखा तो अपने बेटे दलकर सलमान के साथ २०१३ में मलयालम फिल्म ‘पत्तम पोले’ में लॉन्च किया। यहां शूटिंग करते-करते मालविका ने एक्टिंग के गुर सीखे। मलयालम के अलावा कन्नड़, तमिल, हिंदी और अंग्रेजी फिल्मों में काम करनेवाली मालविका के खाते में ‘मास्टर’, ‘पेट्टा’ जैसी बेहतरीन फिल्में हैं। मालविका ने २०१७ में माजिद मजीदी की चर्चित फिल्म ‘बियांड द क्लाउड्स’ से बॉलीवुड में अपनी पारी शुरू की।
सक्रिय रहना ही बेस्ट वर्कआउट 
फिटनेस फ्रीक  मालविका अपनी बॉडी को बेस्ट शेप में रखने के लिए नियमित वर्कआउट रूटीन और सख्त डाइट प्लान को फॉलो करती हैं। वे नियमित रूप से जिम जाती हैं। जहां कम से कम एक घंटे तक एरोबिक्स, कॉर्डियो, स्क्वैट्स और कई तरह की वेट ट्रेनिंग करती हैं। वे फंक्शनल ट्रेनिंग पर भी जोर देती हैं और मिक्स मार्शल आर्ट का भी अभ्यास करती हैं। मालविका का कहना है कि आप चाहे जिम जाएं या न जाएं लेकिन अपने रोजमर्रा के काम फुर्ती से करें। नियमित रूप से सक्रिय रहना ही बेस्ट वर्कआउट है।
क्रिया योग का अभ्यास
मालविका शारीरिक कसरत के साथ-साथ मानसिक व्यायाम को भी महत्व देती हैं। इसके लिए वे तैराकी और योग-अभ्यास करती हैं, विशेषकर रजनीकांत के बताए ‘क्रिया योग’ का नियमित अभ्यास करती हैं। वे हाइकिंग (जंगल या पहाड़ों पर लंबी दूरी तक चलना) और पार्वâर (आमतौर पर शहरी वातावरण में दौड़ लगाने, वूâदने या पर्यावरणीय बाधाओं को पार करने की कसरत) भी करती हैं। उनका मानना है कि हाइकिंग सबसे बेहतर एक्सरसाइज है। इससे शरीर सक्रिय रहता है, कैलोरी बर्न होती है, वजन कम होता है और यह हृदय व पेâफड़े को स्वस्थ रखने में सबसे ज्यादा कारगर है।
सख्त डाइट का पालन
मालविका अपने शूट या लोकेशन के आधार पर एक कप ब्लैक कॉफी या फिर हल्दी-अदरक की चाय के साथ अपने दिन की शुरुआत करती हैं। मालविका सख्त डाइट प्लान को फॉलो करती हैं, जिसमें प्रोटीन से भरपूर और कम कार्बोहाइड्रेट्स वाला भोजन जैसे सलाद, घर का बना भोजन और फल शामिल होता है। फिट रहने के लिए वे ताजे फलों का रस या फिर नारियल पानी पीती हैं। उन्हें मलयाली और महाराष्ट्र के व्यंजन पसंद हैं। केले की सब्जी, सांभर, कडाला करी, नारियल की चटनी उन्हें पसंद है। कभी-कभार वे चिकन दम बिरयानी खाना पसंद करती है। उन्हें मीठा पसंद है पर शक्कर से परहेज करती हैं। हालांकि तिरामिसु उनका पसंदीदा मिष्ठान है।

कच्चे केले की सब्जी
सामग्री: पाव किलो कच्चा केला, १०० ग्राम टमाटर, एक-दो बारीक कटे प्याज, एक छोटी कटोरी दही, आधा चम्मच हल्दी, एक चम्मच धनिया, १० ग्राम हरा धनिया, आधा चम्मच लाल मिर्च, एक चम्मच अमचूर, आधा चम्मच जीरा, एक चुटकी हींग, एक चुटकी काला नमक, आधा चम्मच गरम मसाला, जरूरत के अनुसार तेल और स्वादानुसार नमक।
विधि: कच्चे केले को छीलकर छोटे-छोटे गोल और लंबे टुकड़ों में काट लें। कड़ाही में तेल गरम कर अमचूर छोड़कर बाकी मसाले उसमें भून लें। अब नमक और हल्दी मिलाकर इसमें केले के टुकड़े डाल दें। पानी डालकर इसे ढंक दें। बीच-बीच में चलाते हुए १५ मिनट तक पकाएं। इसमें दही मिलाकर चलाएं। इसके बाद अमचूर, काला नमक और गरम मसाला डालकर थोड़ा पकाएं। इसमें हरा धनिया काटकर मिला दें। दो मिनट तक ढंककर पकाएं।
फायदे: यह सब्जी विटामिन और खनिज से भरपूर होती है। इसमें भरपूर फाइबर होता है, इसलिए पाचनतंत्र के लिए बेहतर है। यह वजन घटाने में सहायक है। यह लाभकारी स्टार्च को बढ़ाती है। डाइबिटीज के मरीजों के लिए बेहतर है। हृदय के लिए अच्छी है।

अन्य समाचार