मुख्यपृष्ठसमाचारतबाह हो गईं तालिबानी महिलाएं!

तबाह हो गईं तालिबानी महिलाएं!

  • एजुकेशन मिनिस्ट्री की बिल्डिंग के सामने किया प्रदर्शन
  • तालिबानी लड़ाकों ने फायरिंग के साथ की मारपीट

एजेंसी / काबुल
अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के बाद वहां की महिलाएं तबाह हो गई हैं। उन पर हर तरह के प्रतिबंध लगा दिए गए हैं। इससे परेशान होकर राजधानी काबुल में कल महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। ये महिलाएं शिक्षा और काम करने का हक मांग रही थीं। उनके हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां थी और वे काम, खाना और आजादी का नारा लगा रही थीं। उन्होंने काबुल में एजुकेशन मिनिस्ट्री की बिल्डिंग के सामने मार्च किया। इसके बाद महिलाओं के प्रदर्शन को रोकने के लिए तालिबानी लड़ाकों ने हवाई फायरिंग की। महिलाएं जब नहीं रुकीं तो उनके साथ मारपीट भी हुई। यह प्रदर्शन तालिबान की सत्ता में वापसी की सालगिरह पूरी होने के कुछ दिन पहले ही किया गया। बता दें कि तालिबान पिछले साल १५ अगस्त को अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज हुआ था।
रायफल की बट से पीटा
मिली जानकारी के मुताबिक करीब ४० महिलाएं प्रदर्शन में शामिल थीं। फायरिंग के बाद उन्होंने पास में मौजूद दुकानों में शरण ली लेकिन तालिबानी लड़ाकों ने उनका पीछा किया और राइफल की बट से उन्हें पीटा। कई महिलाओं के फोन भी तोड़ दिए गए।​​​​​​​ महिला प्रदर्शनकारियों के हाथ में एक बैनर था, जिस पर ‘१५ अगस्त एक काला दिन’ लिखा हुआ था। उन्होंने काम और राजनीति में हिस्सेदारी की मांग की। वे जस्टिस- जस्टिस के नारे लगा रही थीं। महिलाओं का कहना था कि उन्हें अधिकारों से वंचित रखा जा रहा है। प्रदर्शन को कवर कर रहे पत्रकारों के साथ भी मारपीट हुई।
सरकारी नौकरियों से वंचित महिलाएं
गौरतलब है कि सत्ता पर काबिज होने के बाद तालिबान ने कठोर इस्लामी शासन से राहत देने की बात कही थी फिर भी महिलाओं पर कई प्रतिबंध लगाए गए। हजारों लड़कियों को स्कूल जाने से रोक दिया गया और महिलाओं को सरकारी नौकरियों में जाने नहीं दिया गया। महिलाओं के अकेले लंबी यात्रा करने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। महिलाएं केवल उसी तय दिन पब्लिक गार्डन और पार्कों में जा सकती हैं, जिस दिन पुरुष वहां नहीं जाते हैं।

अन्य समाचार