मुख्यपृष्ठसमाचारटार्गेट का टेंशन! प्रिकॉशन डोज दिए बिना ही भेजा जा रहा है...

टार्गेट का टेंशन! प्रिकॉशन डोज दिए बिना ही भेजा जा रहा है मैसेज

योगेंद्र सिंह ठाकुर / पालघर
पालघर में कोरोना के वैक्सीनेशन के नाम पर गजब का खेल चल रहा है। स्वास्थ्य कर्मचारी टार्गेट पूरा करने के लिए बिना डोज दिए ही मैसेज भेज रहे हैं। पालघर में जिन लोगों ने पहली या दूसरी डोज लगवाई है, उन्हें बिना तीसरा डोज लगवाए ही डोज लगने का मैसेज आ रहे हैं। वैक्सीनेशन के इस तरह से मैसेज आने से चिकित्सा विभाग की व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बोइसर के रहने वाले अरुण प्रताप सिंह और उनकी पत्नी मीरा सिंह को वैक्सीन की तीसरी डोज नहीं लगी लेकिन उनके मोबाइल पर मैसेज आया है कि उन्हें वैक्सीन की तीसरी डोज लग गई। वे दोनों इस बात को लेकर चिंतित हैं कि अब उन्हें वैक्सीन का तीसरा डोज मिलेगा या नहीं। अरुण सिंह का कहना है कि मुझे तीसरा डोज बिना टीकाकरण केंद्र  पहुंचे कैसे लगा दिया? वैक्सीनेशन के बाद इसका मैसेज भी दोनों सदस्यों के नंबर पर भी पहुंच गए हैं।
उनका कहना है कि बाकायदा लिंक भेजकर उन्हें सर्टिफिकेट भी डाउनलोड करने के लिए कहा गया है। पालघर में वैक्सीनेशन की एंट्री में लापरवाही बरती जा रही है। प्रथम डोज एवं दूसरा डोज जिन लोगों ने लगवा लिए हैं, उनमें से अधिकतर लोग तीसरे डोज का टीका लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं, जिससे टारगेट को पूरा करने में स्वास्थ्य विभाग को परेशानी उठानी पड़ रही है। बता दें कि जिन्होंने तीसरा डोज नहीं लगवाया है, उन लोगों को वैक्सीन लग जाने का मैसेज भी बिना टीका लगवाए पहुंच रहा है।

अन्य समाचार