मुख्यपृष्ठटॉप समाचारभाजपा-शिंदे गुट में तनातनी! मंत्रिमंडल विस्तार में शिंदे को नहीं मिल रही...

भाजपा-शिंदे गुट में तनातनी! मंत्रिमंडल विस्तार में शिंदे को नहीं मिल रही ज्यादा तवज्जो

  • फडणवीस दिल्ली तलब

रमेश ठाकुर / नई दिल्ली
महाराष्ट्र सरकार के मंत्रिमंडल में अपने-अपने लोगों को शामिल करने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस में बात बिगड़ सकती है। उन दोनों के बीच तनातनी होने के आसार जताए जा रहे हैं। भाजपा और शिंदे गुट में अपने-अपने लोगों को मलाईदार विभाग दिलाने की होड़ मची हुई है। बताया जा रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार में सीएम शिंदे को ज्यादा तवज्जो नहीं दी जा रही है। इससे वे भीतर से आहत हैं। मंत्रिमंडल में भाजपा कोटे से किन विधायकों को शामिल किया जाए, इसको लेकर गुरुवार को देवेंद्र फडणवीस को आपातकाल बैठक के लिए भाजपा हाईकमान ने दिल्ली तलब किया।
भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र सरकार के मलाईदार विभागों में ज्यादातर भाजपा के ही विधायक होंगे। ऐसे में शिवसेना से बगावत कर भाजपा के पाले में जानेवाले शिंदे गुट के हाथ निराशा लगने की संभावनाएं पैदा होने लगी हैं। मालूम हो, दिल्ली में फडणवीस की लगातार मुलाकातें भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह व अन्य शीर्ष नेताओं से हो रही हैं। मंत्रियों की लिस्ट भी तैयार हो चुकी है। संभवत: महाराष्ट्र में ८ अगस्त को मंत्रिमंडल का गठन हो सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मंत्रिमंडल के गठन में एकनाथ शिंदे की राय नहीं ली जा रही, उन्होंने जो लिस्ट दिल्ली भेजी है, उस पर विचार भी नहीं किया गया। शिंदे गुट से मंत्रिमंडल में किस विधायक को लेना है, इसे भी भाजपा तय कर रही है। इस सबको लेकर शिंदे-भाजपा में कभी भी बगावती सुर उठ सकते हैं। इसलिए महाराष्ट्र की सियासत में एक बार फिर से हलचलें तेज होती दिख रही हैं।

अन्य समाचार