मुख्यपृष्ठसमाचार‘स्वाइन फ्लू' की चपेट में ठाणे! क्या कर रही सरकार? जनता पूछ...

‘स्वाइन फ्लू’ की चपेट में ठाणे! क्या कर रही सरकार? जनता पूछ रही सवाल

सामना संवाददाता / ठाणे
ठाणे जिले में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। बढ़ती संख्या के बावजूद महाराष्ट्र की नई सरकार इस पर कोई बड़ा कदम उठाती नजर नहीं आ रही है। ऐसे में सरकार क्या कर रही है? ऐसा सवाल आम जनता कर रही है। ठाणे जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अब तक ठाणे जिले में शनिवार तक कुल १४८ मरीज मिल चुके हैं। बता दें कि मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग को सतर्क होने की आवश्यकता है। दिन-ब-दिन शहर में स्वाइन फ्लू मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। एक सप्ताह पहले जिले में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या ३४ थी और ३ लोगों की मौत हो गई थी। अब गुरुवार के दिन तक ठाणे जिले में स्वाइन फ्लू के रोगियों की संख्या में दोगुना वृद्धि दर्ज हुई है। पिछले गुरुवार को जिले में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या सीधे बढ़कर ६६ हो गई लेकिन इस बीमारी से मरनेवालों की संख्या जस की तस बनी हुई है। शुक्रवार को ठाणे जिले में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या में २० की वृद्धि हुई और मरीजों की संख्या ८५ पर पहुंच गई, वहीं शनिवार को मरीजों की संख्या में १३ की वृद्धि हुई और संख्या बढ़कर ९९ हो गई, साथ ही सोमवार को फिर २७ मरीजों की वृद्धि के पश्चात मरीजों की संख्या १२५ पहुंच गई है। उसके बाद गुरुवार को फिर मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ और मरीजों की संख्या सीधे १४८ पर पहुंच गई। सबसे ज्यादा ९० मरीज ठाणे मनपा की सीमा में पाए गए हैं और तीन लोगों की मौत हुई है। साथ ही कल्याण-डोंबिवली में मरीजों की संख्या बढ़कर २७ हो गई है। नई मुंबई में मरीजों की संख्या २० हो गई है, साथ ही कुलगांव-बदलापुर में दो और अंबरनाथ में एक मरीज मिले हैं, वहीं मीरा रोड-भायंदर में मरीजों की संख्या ५ पर स्थिर है।

अन्य समाचार