मुख्यपृष्ठखबरेंमहिला की फावड़े से हत्या कर शव को जलाने वाले अभियुक्त को...

महिला की फावड़े से हत्या कर शव को जलाने वाले अभियुक्त को तीन महीने बाद पुलिस ने दबोचा

उमेश गुप्ता / वाराणसी

मिर्जामुराद थाने की पुलिस ने तीन माह पूर्व पूरे गांव में हुई महिला की हत्या के मामले में आरोपी उसके देवर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने अपने भाई व महिला के पति और एक अन्य के साथ मिलकर महिला की फावड़े से हत्या कर दी थी। पुलिस ने अपनी जांच पड़ताल के बाद तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था।
अब पुलिस ने इस हत्या में शामिल मानसिंह (42 वर्ष) को गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया अभियुक्त मिर्जामुराद थाना क्षेत्र के पूरे गांव का निवासी है। वह मृतक महिला का देवर है। पुलिस तीन महीनों से इसकी खोजबीन कर रही थी। पुलिस ने आरोपी के ऊपर 25 हजार रुपए के इनाम भी रखा था।
प्रकरण के मुताबिक, 22 नवंबर 2023 को मिर्जामुराद क्षेत्र के पूरे गांव में कलावती देवी उर्फ लक्ष्मीना (45 वर्ष) पत्नी रणजीत पटेल उर्फ बिलखू के साथ खेत में काम कर रही थी। उसी समय किसी बात को लेकर पति-पत्नी में विवाद हुआ और गुस्से में आकर पति रणजीत ने पत्नी पर फावड़े से वार कर मौत के घाट उतार दिया था। वहीं परिजन बिना पुलिस को सूचना दिये शव का अन्तिम संस्कार कर दिये थे। महिला के भाई बड़ागांव थाना क्षेत्र के चिलबिला गांव निवासी गणेश पटेल के तहरीर पर मिर्जामुराद पुलिस ने महिला के पति, देवर भुलई पटेल उर्फ वीरेंद्र व मान सिंह के खिलाफ हत्या व हत्या के बाद शव गायब कर जला देने का मुकदमा दर्ज किया था।
इस घटना के दो दिन बाद मिर्जामुराद पुलिस घटना के दो दिन बाद महिला के पति, पुत्र व एक देवर को गिरफ्तार कर जेल भेज दी थी। वहीं घटना के बाद फरार चल रहे आरोपी मान सिंह पर पुलिस द्वारा 25 हजार का इनाम भी घोषित कर सरगर्मी से तलाश कर रही थी। मिर्जामुराद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गुरुवार की तड़के पूरे गांव से मान सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। गिरफ्तार करने वाले पुलिस टीम में मिर्जामुराद थानाध्यक्ष आनंद कुमार चौरसिया, कछवां रोड चौकी प्रभारी राजकुमार वर्मा, दरोगा दिगम्बर उपाध्याय, कांस्टेबल वैभव त्रिपाठी व रत्नेश राय शामिल रहे।

अन्य समाचार