मुख्यपृष्ठअपराधस्टेशन की ‘काली रात’! विरार में उठाया अंधेरे का फायदा

स्टेशन की ‘काली रात’! विरार में उठाया अंधेरे का फायदा

सामना संवाददाता / मुंबई
विरार में रहनेवाले एक यात्री के लिए अंतिम लोकल से विरार स्टेशन पर उतरना, ‘काली रात’ साबित हुई है। चार लुटेरों ने अंधेरे का फायदा उठाकर लूट की वारदात को अंजाम दिया। जीआरपी पुलिस की सतर्कता से चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था।
वसई जीआरपी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सचिन इंगवले ने बताया कि पीड़ित विरार का रहनेवाला है। अंधेरी में म्युजीशियन का काम करता है। पिछले रविवार को पीड़ित घर जाने के लिए अंतिम लोकल पकड़ कर २.४० बजे विरार पहुंचा था। लुटेरे यात्री का पीछा करते हुए विरार आए थे। जब यात्री एस्केलेटर पर चढ़ रहा था, तभी आरोपियों ने मारपीट कर सोने की चेन और मोबाइल लूटकर फरार हो गए।
वारदात से पहले बातों में उलझाया
पुलिस के मुताबिक सभी आरोपियों ने मरीन लाइन से विरार धीमी लोकल पकड़ी थी। आरोपी एक प्लान के तहत वारदात को अंजाम देने लोकल ट्रेन में सफर कर रहे थे, तभी अंधेरी से ट्रेन पकड़नेवाले पीड़ित यात्री को टारगेट सेट किया। इस दौरान आरोपी उसे अपनी बातों में उलझाने लग गए। हालांकि यात्री को अनहोनी का आभास हो गया था। घटना के बाद आरोपी ने जीआरपी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई।
८० सीसीटीवी फुटेज की जांच
पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम प्रत्येक स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज की जांच की। इसके अलावा एस्केलेटर के पास लगाए गए सीसीटीवी कैमरे  में घटना का वीडियो कैद हो गया था। करीब ८० कैमरे की जांच की गई, जिसके बाद चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। कोर्ट ने आरोपियों को २३ मई तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है।

अन्य समाचार