मुख्यपृष्ठनए समाचारकलवा अस्पताल में मरीजों की मौत का मामला ... मुख्यमंत्री की डेडलाइन...

कलवा अस्पताल में मरीजों की मौत का मामला … मुख्यमंत्री की डेडलाइन डेड!

•  २५ अगस्त बीत जाने के बावजूद पूरी नहीं हुई जांच
• अभी भी लग सकता है १० से १२ दिन का समय

सामना संवाददाता / ठाणे
कलवा अस्पताल में मरीजों की मौत की वजह का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है। अस्पताल में एक ही दिन में १८ मरीजों की मौत की वजह क्या थी, इसकी जांच अभी तक पूरी नहीं हो पाई है। मुख्यमंत्री ने जांच समिति को २५ अगस्त तक रिपोर्ट पेश करने की डेडलाइन दी थी। मुख्यमंत्री की डेडलाइन डेड होने के बावजूद रिपोर्ट नहीं पेश होने की जानकारी सामने आई है। मनपा सूत्रों के मुताबिक, अस्पताल में मरीजों की मौत की जांच अभी अधूरी है। जांच पूरी होने में लगभग १० से १२ दिन और लगने की बात कही जा रही है।
बता दें कि ठाणे मनपा द्वारा संचालित कलवा स्थित छत्रपति शिवाजी महाराज अस्पताल में १० अगस्त को ५ और १३ अगस्त को १२ घंटे के भीतर १८ मरीजों की मौत की घटना घटी थी। अचानक इतने मरीजों की मौत को लेकर मामला गरमा गया था। मरीजों के परिजनों ने मौतों के पीछे अस्पताल के डॉक्टरों, नर्स और कर्मचारियों की लापरवाही और समय पर उपचार नहीं करने का आरोप लगाया था। राजनीतिक तौर पर मामला खूब उछला था। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे सहित कई अन्य मंत्रियों ने मामले को गंभीरता से लेते अस्पताल में भेंट दी थी। इसके साथ विपक्षी पार्टियों ने मौतों को लेकर राज्य सरकार और मनपा प्रशासन को जमकर घेरा तथा जोरदार हमला बोला था।

जांच अभी बाकी है
मुख्यमंत्री के आदेश पर राज्य स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की एक नौ सदस्यीय जांच समिति का गठन किया गया था और समिति को अस्पताल में मरीजों की मौत की रिपोर्ट २५ अगस्त को देनी थी। सूत्रों के अनुसार, मामले की जांच अभी पूरी नहीं हुई है, इसलिए अंतिम जांच रिपोर्ट पेश नहीं हो पाई है। साथ ही अतिरिक्त १० से १२ दिन लगने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

अन्य समाचार

लालमलाल!