मुख्यपृष्ठसमाचारसेना की गरिमा से खेल रही है केंद्र सरकार! ...जम्मू कांग्रेस ने...

सेना की गरिमा से खेल रही है केंद्र सरकार! …जम्मू कांग्रेस ने लगाया आरोप

सामना संवाददाता / जम्मू
केंद्र की मोदी सरकार भारतीय सशस्त्र बलों की गरिमा के साथ खिलवाड़ कर रही है। सेना में नियमित भर्ती पर रोक लगाकर ४ साल से अनुबंध पर सेना की भर्ती देश की सुरक्षा के लिए सुखद संदेश नहीं है। चार साल की सेवा के बाद भर्ती हुए युवाओं के भविष्य का अब क्या होगा? जम्मू में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए जम्मू-कश्मीर प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष उदय भानु चिब ने केंद्र की मोदी सरकार पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की तीनों सेनाओं में चार साल की सेना भर्ती की घोषणा कर अपने चिर-परिचित अंदाज में पैकेज बनाया और सेना में चार साल की ‘अनुबंध भर्ती’ को ‘अग्निवीर’ बता दिया।
देश की सुरक्षा के लिए उचित संदेश नहीं
मोदी सरकार की इस योजना पर तीनों सेनाओं के शीर्ष अधिकारियों और रक्षा क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों ने गहरी चिंता व्यक्त की है। सेना के एक से अधिक अधिकारी और विशेषज्ञ कह चुके हैं कि मोदी सरकार का यह पैâसला भारतीय सशस्त्र बलों की गरिमा के साथ खिलवाड़ है। रक्षा विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि ४ साल की भर्ती देश की सुरक्षा के लिए उचित संदेश नहीं है। सबसे ज्यादा चिंता की बात यह है कि चार साल बाद इन युवा सैनिकों के भविष्य का क्या होगा? इस अवसर पर रिकी दलोत्रा, जहांजैब सरेवाल, लतीश शर्मा, मानव चौधरी, हैप्पी रंधावा मौजूद रहे।

अन्य समाचार