मुख्यपृष्ठनए समाचारमानसूनी बीमारियों की हार! मनपा का तगड़ा प्रहार

मानसूनी बीमारियों की हार! मनपा का तगड़ा प्रहार

  • मुंबईकरों को मिली राहत 
  • कंट्रोल में स्वाइन फ्लू, मलेरिया और डेंगू

सामना संवाददाता / मुंबई
कोरोना कहर से सबक लेते हुए मनपा प्रशासन अब सामान्य बीमारियों को हल्के में लेने की तनिक भी भूल नहीं कर रही है। हालांकि महामारी के दौरान उठाए गए कदमों और प्रभावी उपायों के चलते स्वास्थ्य विभाग ने अब तक महामारी की आई सभी लहरों को परास्त कर दिया है। कोरोना के कंट्रोल में आते ही मौसमी बीमारियों के दस्तक देने के बाद फिर से मनपा प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया। मनपा के तगड़े प्रहार से मौसमी बीमारियां भी हार गई हैं। शहर में स्वाइन फ्लू, डेंगू और मलेरिया जैसी तमाम मानसूनी बीमारियां अब पूरी तरह से कंट्रोल में आ गई हैं, जिससे मुंबईकरों को राहत मिली है।
उल्लेखनीय है कि बारिश शुरू होते ही मुंबई में मौसमी बीमारियों का संकट गहराने लगता है। इस साल हुई झमाझम बारिश में मनपा के सामने संक्रामक बीमारियों ने संकट पैदा कर दिया था, जिसका प्रशासन ने डटकर सामना किया। हालांकि अब जबकि बारिश धीरे-धीरे वापसी कर रही है। ऐसे में मनपा के प्रभावी उपायों के चलते मौसमी बीमारियां भी हार गईं। इसके चलते नए मरीजों के मिलने की दर भी कम हो गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए आंकड़ों के मुताबिक २१ सितंबर तक मुंबई में मलेरिया के ६०७, लेप्टो के ४६, डेंगू के २५६, गैस्ट्रो के २४५, हेपेटाइटिस के २८, चिकनगुनिया के ७ और स्वाइन फ्लू के ९ मरीज महज एक सप्ताह में मिले हैं। यदि सितंबर महीने के आंकड़ों पर नजर डालें तो मलेरिया के ६५९, लेप्टो के ४७, डेंगू के २१५, गैस्ट्रो के ३७१, हेपेटाइटिस के ६९, चिकनगुनिया के २ और स्वाइन फ्लू के १४ मरीज मिले।
अगस्त तक हुई थीं छह मौतें
इस बीच मानसूनी बीमारियों के कारण अगस्त तक छह लोगों की मौत हो चुकी थी। इनमें से एक-एक मौत लेप्टो-मलेरिया से और दो-दो मौत डेंगू व स्वाइन फ्लू से हुई। मानसूनी बीमारियां भले ही नियंत्रण में आ गई हैं लेकिन मनपा ने मुंबईवासियों से सावधान रहने और सड़कों पर बिकने वाले खुले खाद्य पदार्थ न खाने की अपील की है।
ऐसे रखें खयाल
मनपा स्वास्थ्य विभाग की मुख्य कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मंगला गोमारे ने कहा कि मौसमी बीमारियों से संबंधित कोई भी लक्षण दिखाई देने पर तुरंत इलाज कराएं। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें।

अन्य समाचार