मुख्यपृष्ठसमाचारमोक्ष की ‘मारामारी’! लकड़ी कारोबारी के दुर्व्यवहार से डोम राजा परिवार...

मोक्ष की ‘मारामारी’! लकड़ी कारोबारी के दुर्व्यवहार से डोम राजा परिवार क्षुब्ध

  •  मणिकर्णिका महाश्मशान घाट पर रोका शवदाह का कार्य

उमेश गुप्ता / वाराणसी
भोलेनाथ की नगरी वाराणसी में मोक्ष की मारामारी चल रही है। लकड़ी कारोबारी के दुव्र्यहार के चलते डोमराजा का परिवार क्षुब्ध हो गया, जिसके चलते मणिकर्णिका महाश्मशान घाट पर कल सुबह डोम राजा परिवार ने शवदाह का कार्य रोक दिया। डोम राजा परिवार के अनुसार आए दिन लकड़ी व्यापारी उनसे और उनके लोगों के साथ अभद्र व्यहवहार करते हैं। शवदाह के स्थान पर लकड़ियां रख देते हैं। ऐसे में जब तक हमारी समस्या का निदान नहीं होगा हम शवदाह नहीं करेंगे। सूचना पर पहुंचे चौक मणिकर्णिका चौकी के इंस्पेक्टर ने डोम परिवार के सदस्यों से बात कर उन्हें समझाया और समस्या के समाधान का आश्वासन दिया, जिसके बाद दोपहर एक बजे के बाद शवदाह शुरू हुआ।
इस संबंध में डोमराजा परिवार के सदस्य शालू चौधरी ने बताया कि मणिकर्णिका घाट पर लकड़ी विक्रेता और स्थानीय दबंग मनमानी करते हैं। हमारे आदमियों के साथ अभद्रता हो रही है। शवदाह के स्थान पर लकड़ी रखकर कब्जा कर लिया है इसलिए समस्या हो रही है। ऐसे में हम सभी ने निर्णय किया है कि हम शवदाह नहीं करेंगे जब तक की समस्या का स्थायी समाधान नहीं होता।

आश्वासन के बाद हुआ समस्या का समाधान
दूसरी ओर इंस्पेक्टर शिवाकांत मिश्रा ने बताया कि डोम राजा परिवार के सदस्यों से बातचीत कर उनकी समस्या सुनी गई है। शवदाह का काम शुरू करा दिया गया है। उन्हें कहा गया है कि कल बैठक कर समस्या का स्थायी समाधान करा दिया जाएगा। इस बीच यदि शांति और कानून व्यवस्था को कोई प्रभावित करने का प्रयास करेगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं डोम राजा परिवार ने भी साफ किया है कि यदि कल शाम समस्या का समाधान नहीं हुआ तो हम अनिश्चितकाल के लिए शवदाह रोक देंगे।

अन्य समाचार