मुख्यपृष्ठनए समाचारगार्डन में लगाए गए निकृष्ट दर्जे की बेंच गिरने से बच्ची की...

गार्डन में लगाए गए निकृष्ट दर्जे की बेंच गिरने से बच्ची की हुई मौत

खारघर / गोविंद पाल
खारघर के एक पार्क में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। सेक्टर १२ स्थित एक इमारत में सुरक्षा गॉर्ड की नौकरी करने वाले प्रकाश विश्वकर्मा अपनी चार वर्षीय मासूम बेटी ब्रीजा को पार्क में खेलने के लिए ले गया था, लेकिन पिता को यह नहीं मालूम था कि जिस पार्क में अपनी बच्ची की खुशी के लिए आए हैं वह पार्क उनकी मासूम को छीन लेगा। पार्क में बेटी खेल रही थी और खेलते-खेलते जब वह थक गई तो पास की बेंच पर जाकर बैठ गई, लेकिन बेंच की स्थिति काफी नाजुक होने के कारण वह टूटकर बच्ची के ऊपर ही गिर पड़ा। बच्ची के ऊपर पड़े बेंच को देख पिता दौड़ा और उसके ऊपर से बेंच उठाकर साइड में रख दिया। मासूम को बेहोशी की हालत में देख उसे एक निजी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं स्थानीय नागरिकों की शिकायत है कि पनवेल महानगर पालिका द्वारा इस पार्क की उपेक्षा की गई है। जब पार्क में मौजूद बेंच की हालत इतनी खराब है तो इसे सुधारने के लिए कोई पहल क्यों नहीं की गई। इस हादसे के बाद न तो अभी तक कोई अधिकारी वहां आया और न ही स्थानीय प्रतिनिधि। बताया जा रहा है कि आने-जाने वाले लोगों को बैठने के लिए स्थानीय पूर्व पार्षद द्वारा बेंच लगाई गई थी, परंतु खस्ताहाल इन बेंचो की मरम्तीकरण का कार्य नहीं कराया गया। स्थानीय नागरिकों का आरोप है कि निकृष्ट काम की वजह से मासूम की जान चली गई। इस मामले को लेकर पनवेल महानगरपालिका के अधिकारी राजेश कार्डिले से बात की गई तो उन्होंने जवाब दिया कि मुझे कुछ पता नहीं है और इस विभाग की जिम्मेदारी भी मेरे पास नहीं है।

अन्य समाचार