मुख्यपृष्ठनए समाचारराज्यपाल को बोलना मना है! पार्टी के वरिष्ठों ने किया कोश्यारी का...

राज्यपाल को बोलना मना है! पार्टी के वरिष्ठों ने किया कोश्यारी का मुंह बंद

  • दिल्ली में खुद राज्यपाल ने किया स्वीकार

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई को लेकर विवादित बयान देनेवाले राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को पार्टी की ओर से अच्छी तरह से दम दिया गया है। अधिक बात मत करो, सेल्फ गोल न करें। ऐसे शब्दों में वरिष्ठों की ओर से ताकीद दी गई है। इस ‘समझ’ को सुनकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी महाराष्ट्र सदन में आ गए, लेकिन जैसे ही उन्होंने पत्रकारों को देखा, उनका अभिवादन किया और ‘सीएम’ यहां पर हैं, वह आप से बात करेंगे’ ऐसा कहते हुए वे निकल गए।
बता दें कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि अगर गुजराती और मारवाड़ी चले गए तो मुंबई आर्थिक राजधानी नहीं रहेगी। इस बयान के बाद महाराष्ट्र में गुस्से की लहर दौड़ गई थी। इस बयान के चलते शिंदे-फडणवीस सरकार की खूब खिंचाई हुई थी। इसलिए इन दोनों ने राज्यपाल के बयान से खुद को अलग करते हुए हाथ झटक लिया था। इसके बाद कोश्यारी ने शुरू में सार्वजनिक सफाई दी और बाद में महाराष्ट्र से माफी मांगी। फिर भी महाराष्ट्र में अभी भी गुस्से की लहर थमी नहीं है। राज्यपाल दो दिवसीय दिल्ली दौरे पर हैं। कल उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की। वहां पर वरिष्ठों ने उन्हें अच्छी तरह से ताकीद दी। दिलचस्प बात यह है कि राज्यपाल ने भी इसे स्वीकार किया। कोश्यारी ने महाराष्ट्र सदन में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि मैं नहीं बोलूंगा। मुख्यमंत्री यहां हैं। उनसे बात करो। मुझे बोलना नहीं है। राज्यपाल को न बोलने का आदेश दिया गया है।

अन्य समाचार