मुख्यपृष्ठनए समाचारकर्नाटक में ‘जेएन.१’ का कहर ... कोविड के नए वैरिएंट से तीन...

कर्नाटक में ‘जेएन.१’ का कहर … कोविड के नए वैरिएंट से तीन मरीजों की मौत! … केरल में भी फूटा कोरोना बम

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
कोरोना वायरस ने एक बार फिर दस्तक दे दी है। इस बार कोरोना का नया वैरिएंट ‘जेएन.१’ ने कहर मचाना शुरू कर दिया है। कल सोमवार को कर्नाटक में जहां ३४ मामले दर्ज किए गए, वहीं इस नए वैरिएंट से तीन मरीजों की मौत की भी खबर है। उधर केरल में भी कोरोना विस्फोट हुआ है। प्रदेश में एक दिन में ११५ नए मामले सामने आए हैं।
कर्नाटक के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण सेवा विभाग के मुताबिक, प्रदेश में जेएन.१ वैरिएंट के कुल ३४ मामलों का पता चला है। इनमें से २० मामले बंगलुरु में, चार मामले मैसूर में, तीन मामले मांड्या में और एक-एक मामला रामनगर, बंगलुरु ग्रामीण, कोडागु और चामराजा नगरा से सामने आया है। नए ‘जेएन.१’ वैरिएंट के चलते इन मरीजों में तीन लोगों की मौत भी हुई है। केरल की बात करें तो पिछले २४ घंटों में ११५ नए वैरिएंट के मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में कोविड के कुल सक्रिय मामलों की संख्या १,७४९ हो गई है। हालांकि, पिछले २४ घंटों में राज्य में वायरस से किसी की मौत की सूचना नहीं मिली। जेएन.१ सब-वैरिएंट की पहली बार पहचान अगस्त में की गई थी। यह ओमायक्रॉन का सब-वैरिएंट बीए.२.८६ से बना है। २०२२ की शुरुआत में बीए.२.८६ ही कोरोना के मामलों में वृद्धि का कारण था। बीए.२.८६ व्यापक रूप से नहीं पैâला था, लेकिन इसने विशेषज्ञों को चिंतित कर दिया था क्योंकि बीए.२.८६ के स्पाइक प्रोटीन पर अतिरिक्त म्यूटेशन हुए थे और उसी तरह जेएन.१ के स्पाइक प्रोटीन में भी एक अतिरिक्त म्यूटेशन है।

अन्य समाचार