मुख्यपृष्ठसमाचारबढ़ रहा पारा, बाबू संभल के! ...कहीं धूप, कहीं छाया

बढ़ रहा पारा, बाबू संभल के! …कहीं धूप, कहीं छाया

• मानसून दिखाएगा इस साल कई रूप
विनय यादव / मुंबई । देश की आर्थिक राजधानी मुंबई और सूबे की उपराजधानी नागपुर सहित आस-पास के क्षेत्रों में मौसम गजब का खेल, खेल रहा है। अप्रैल महीने में ही गर्मी और तपिश ने लोगों को बेहाल कर दिया है। दूसरी तरफ बेमौसम बारिश राहत तो दे रही है लेकिन मौसमी फसलों को नुकसान पहुंचा रही है। इस बीच घटते-बढ़ते पारे के बीच लोग गैस्ट्रो, ऊष्माघात और उल्टी, जुलाब की चपेट में आ रहे हैं। इस लिहाज से मौसम विभाग ने लोगों को सलाह दी है कि पारा बढ़ रहा है, बाबू संभल के रहिए‌!
ग्लोबल वार्मिंग के कारण हुए जलवायु परिवर्तन से मौसम कई दिनों से अपने तरह-तरह के रंग दिखा रहा है। मौसम के बदलते रूप से मौसम वैज्ञानिक और उसके जानकार भी हैरान हैं। जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम का रूप क्या होगा और कब बदल जाएगा? इसे लेकर न केवल देश बल्कि अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों का तर्क-वितर्क जारी है। बहरहाल मुंबई प्रादेशिक मौसम विभाग ने राज्य के कुछ क्षेत्रों में गरज के साथ बारिश तो कहीं हीटवेव चलने की चेतावनी जारी की है। राज्य में पारा दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है। सूबे की राजधानी मुंबई के साथ उपराजधानी नागपुर, चंद्रपुर, अमरावती, गडचिरोली और धुले में भी भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है। इसी तरह संभाजीनगर, जालना, बीड और धाराशिव जिले में भीषण गर्मी पड़ रही है। कोकण के सिंधुदुर्ग, रायगढ़, रत्नागिरी में भी गर्मी और उमस ने बेमौसम बारिश के बाद भी बेहाल कर रखा है। हालांकि बीच-बीच में कोकण में बेमौसम बारिश होती रही है।
मुंबई में बादलों की अठखेलियां
मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को मुंबई में बादल छाए रहेंगे। अगले पांच दिनों में कोकण और मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों और मध्य महाराष्ट्र में हवाओं के साथ बारिश होने की संभावना है। पुणे और रायगढ़ क्षेत्र में सोमवार को आंधी के साथ बारिश का अनुमान है। कोकण के रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग में सोमवार और मंगलवार को बारिश हो सकती है। सातारा, सांगली, सोलापुर, जलगांव, नगर, लातूर और धाराशिव जिले में सोमवार से गुरुवार तक बारिश होगी। यह पूर्वानुमान मौसम विभाग ने लगाया है।
ऊष्माघात से कई लोगों की मौत
कोल्हापुर में बुधवार तक आंधी और बुधवार व गुरुवार को नांदेड़ में गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। साथ ही मौसम विभाग ने बुधवार और गुरुवार को चंद्रपुर तथा गडचिरोली जिले में लू चलने का अनुमान जताया है। घर से बाहर निकलते हुए लोगों को सावधानियां बरतने की अपील की गई है। राज्य में अब तक ऊष्माघात से कई लोगों की मृत्यु हो चुकी है।
चलता रहेगा प्रकृति संतुलन का दौर
मौसम की जानकारी देनेवाली निजी संस्था ‘स्काईमेट वेदर’ के प्रमुख वैज्ञानिक महेश पालावत के अनुसार गर्मी और बेमौसम बारिश-आंधी का प्रकृति संतुलन का दौर चलता रहेगा। ग्लोबल वार्मिंग का असर देश पर पड़ेगा। इस साल सामान्य बारिश का पूर्वानुमान है। मौसम कब करवट बदलेगा, वह उन दिनों की स्थितियों पर निर्भर करेगा। फिलहाल इस साल पूरे मानसून में मुंबई और ठाणे में चार से पांच दिनों बाढ़ की स्थिति निर्माण होने की संभावना है।

अन्य समाचार