मुख्यपृष्ठटॉप समाचारटेंशन में गुजरी रात!...पिता-पुत्र पर फैसला आज लटक रही है गिरफ्तारी की...

टेंशन में गुजरी रात!…पिता-पुत्र पर फैसला आज लटक रही है गिरफ्तारी की तलवार

सामना संवाददाता / मुंबई। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मैनेजर पर विवादित बयान देकर भाजपा के केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और विधायक बेटे नितेश राणे फंसते नजर आ रहे हैं। उनके ऊपर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। सत्र न्यायालय में मंगलवार को जमानत याचिका पर दोनों पक्ष की जिरह हुई। कोर्ट में करीब सवा २ घंटे की बहस के बाद बुधवार यानी आज सुबह साढ़े ११ बजे पैâसला आएगा। कोर्ट में नारायण राणे की तरफ से उनके वकील सतीश मानशिंदे ने अपना पक्ष रखा, जबकि मुंबई मालवणी पुलिस की तरफ से भी अपना पक्ष डीसीपी विशाल ठाकुर ने रखा। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने इस पर पैâसला सुरक्षित रख लिया है। सूत्रों के मुताबिक पैâसले से पहले वाली रात पिता-पुत्र की टेंशन में गुजरी है।
बता दें कि गत माह पिता-पुत्र ने दिशा सालियन की मौत के मामले में सार्वजनिक विवादित बयान दिया था। इस बयान से दिशा सालियन का परिवार आहत हुआ था। इसके बाद राज्य महिला आयोग से परिवार को बदनाम करने की शिकायत दर्ज कराई थी। आयोग के निर्देश और दिशा सालियन की माता की शिकायत पर मालवणी पुलिस स्टेशन में इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट की धारा ५००, ५०९ और ६७ के तहत मामला दर्ज किया गया था। जोन-११ के डीसीपी विशाल ठाकुर ने मालवणी पुलिस स्टेशन में करीब ९ घंटे पूछताछ की थी। हालांकि कोर्ट ने उन्हें गिरफ्तारी से राहत दे दी थी। गोरेगांव की दिंडोशी कोर्ट में मंगलवार सुबह केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और उनके बेटे नितेश राणे की अग्रिम जमानत अर्जी पर सुनवाई हुई। वकील सतीश मानशिंदे ने नारायण राणे का प्रतिनिधित्व किया और डीसीपी विशाल ठाकुर ने मुंबई पुलिस का प्रतिनिधित्व किया। कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद इस संबंध में अपना पैâसला सुरक्षित रख लिया है।
गौरतलब है कि दिशा सालियन ने ८ जून, २०२० को उपनगरीय मालाड स्थित एक बहुमंजिला इमारत से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी। इसके छह दिन बाद अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (३४) बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे।

अन्य समाचार