मुख्यपृष्ठअपराधयूपी में भ्रष्टाचार की विषबेल! अब देवरिया में पकड़ाया घूसखोर कानूनगो

यूपी में भ्रष्टाचार की विषबेल! अब देवरिया में पकड़ाया घूसखोर कानूनगो

  • दो माह के भीतर पकड़े जा चुके हैं सुलतानपुर
  • प्रतापगढ़  व जौनपुर में रिश्वतखोर लेखपाल

विक्रम सिंह / देवरिया

यूपी के सरकारी तंत्र में फैले भ्रष्टाचार की एक बार फिर पुष्टि हो गई है। सुलतानपुर, प्रतापगढ़ व जौनपुर में रिश्वतखोर लेखपालों की गिरफ्तारी के बाद अब मंगलवार को देवरिया में जमीन पैमाइश के मामले में पीड़ित किसान से रिश्वत लेते हुए एक कानूनगो को पुलिस की विजिलेंस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले में पुलिस की भ्रष्टाचार निवारण शाखा ने केस दर्ज कर आरोपी को न्यायालय में पेश करने की तैयारी कर रही है।
घटनाक्रम के मुताबिक देवरिया के खुखुंदू थानांतर्गत मरहबा गांव निवासी शत्रुघ्न कुशवाहा ने जमीन का पैमाइशी पत्थर दुरुस्त करने के लिए तहसील दिवस पर प्रार्थना-पत्र दिया था, जिस पर कार्यवाही करने के लिए कानूनगो अशोक पांडे को प्रार्थना पत्र मिला। उसने कार्य करने की एवज में शिकायकर्ता से ५,००० रुपए की डिमांड की। उसने इसकी जानकारी एंटीकरप्शन टीम को दी। जिस पर अलर्ट मोड में आई एंटी करप्शन टीम ने घेराबंदी की और शिकायतकर्ता से पांच हजार रुपए रकम लेते हुए कानूनगो पांडेय को रंगेहाथ बरहज तहसील के गेट पर दबोच लिया। इसके बाद सीआईडी की एंटी करप्शन टीम उसे कोतवाली देवरिया लेकर आई। जहां पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत विधिक कार्रवाई कर पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

अन्य समाचार