मुख्यपृष्ठटॉप समाचारबालासाहेब ने जिन्हें बचाया वही शिवसेना खत्म करने निकले हैं, तो खत्म...

बालासाहेब ने जिन्हें बचाया वही शिवसेना खत्म करने निकले हैं, तो खत्म करके दिखाओ! … उद्धव ठाकरे की भाजपा को खुली चुनौती

सामना संवाददाता / मुंबई
`मातोश्री’ पर कई लोग `हमें बचाओ’ ऐसी मदद मांगने आए थे। हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने उस समय जिन्हें बचाया था, वही अब शिवसेना समाप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। हिम्मत हो तो वे शिवसेना समाप्त करके दिखाओ, ऐसी खुली चुनौती शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिए बिना ही भाजपा पर हमला बोला। शिवसेना लड़नेवाली है, शिवसेना ने भाजपा को शत्रु नहीं समझा था, भाजपा ने शत्रुता की, ऐसा भी उद्धव ठाकरे ने कहा। भगवा में कोई फर्क नहीं होता भगवा तो भगवा ही होता है। श्री कृष्ण, श्री राम, भवानी माता सभी के पास भगवा है लेकिन कुछ लोग उसमें भी भेदभाव कर रहे हैं, ऐसी टीका भी उद्धव ठाकरे ने की।
शिवसेना कभी भेदभाव नहीं करती
शिवसेना ही थी, जिसने १९९२ के सांप्रदायिक दंगों में मुंबई को बचाया था, इस बात की याद दिलाते हुए उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि बालासाहेब ठाकरे ने हमें सिखाया है कि जब मुंबई पर कोई संकट आए तो मदद के लिए दौड़कर जाओ चाहे सांप्रदायिक दंगे हों या भारी बरसात। रक्तदान करते समय शिवसैनिक यह नहीं देखते कि यह खून किसका है, इसका उपयोग कौन करेगा। `शिवसेना कभी भेदभाव नहीं करती’ उन्होंने अपनी भावनाएं व्यक्त करते हुए कहा कि हमने यह भेदभाव नहीं किया कि आप विदेशी हैं। उत्तर भारतीय हैं। हम सभी हिंदू हैं, ऐसा भी उद्धव ठाकरे ने कहा।

भाजपावाले खा रहे शिवसेना की सेंकी रोटी
शुक्रवार को `मातोश्री’ निवासस्थान पर उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में भाजपा, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद के सैकड़ों पदाधिकारी और कार्यकर्ता शिवसेना में शामिल हुए। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने कहा, `जब लोग यह कहने से भी डरते थे कि हम हिंदू हैं, तब बालासाहेब ठाकरे ने `गर्व से कहो हम हिंदू हैं’ ऐसा नारा दिया था। हिंदू के आगे हिंदू मतदान करेगा, ऐसा बालासाहेब ठाकरे ने भाजपा के प्रमोद महाजन को बताया था। लेकिन संघर्ष करनेवाले अब नहीं रहे। सत्ता में पहुंचे लोग केवल शिवसेना की सेंकी हुई रोटी खा रहे हैं, लेकिन जिन्होंने कष्ट किया वे हम में नहीं रहे और जो हैं उन्हें दूर कर दिया गया है, ऐसी तीखी टिप्पणी भी उद्धव ठाकरे ने की।
विश्व हिंदू परिषद उत्तर मुंबई के पूर्व जिला कोषाध्यक्ष रविचंद्र उपाध्याय, अंतर्राष्ट्रीय बजरंग दल उत्तर मुंबई के जिला उपाध्यक्ष अक्षय कदम, भाजपा मीरा-भायंदर जिला महिला उपाध्यक्ष माधवी शुक्ला, जिला महासचिव राम उपाध्याय, अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद के राष्ट्रीय सचिव संजय शुक्ला, घाती गुट के जिला महासचिव प्रदीप तिवारी, विश्व हिंदू परिषद के बोरीवली जिला सुरक्षा प्रमुख दीपक दुबे और तालुका प्रमुख सूरज दुबे सहित सैकड़ों पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने शिवसेना के भगवा को थाम लिया। उत्तर हिंदुस्थानियों की एक बैठक बुलाएं और उस वक्त मेरे मन में जो है, वह सार्वजनिक तौर पर कहूंगा ऐसा भी उद्धव ठाकरे ने इस दौरान कहा।
मुंबई पर शिवसेना का भगवा लहराएगा
भाजपा और विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों ने इस दौरान कहा कि वे आनेवाले समय में मुंबई में शिवसेना का भगवा लहराने के लिए ही काम करेंगे।
आज भाजपा रामराज-रामराज करते हुए रावण राज्य की ओर बढ़ रही है और शंकराचार्य के यह कहने के बावजूद कि मंदिर पूर्ण नहीं है। कोई मुहूर्त नहीं है। भाजपा केवल राजनीति के लिए अयोध्या में श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कर रही है। यह हमें स्वीकार्य नहीं है, ऐसा इस अवसर पर भाजपा उत्तरी मुंबई जिला सचिव प्रदीप उपाध्याय ने कहा।
भाजपा, विहिंप, बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने शिवसेना में किया प्रवेश
कल `मातोश्री’ निवासस्थान पर उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में भाजपा, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद के सैकड़ों पदाधिकारी और कार्यकर्ता शिवसेना में शामिल हुए, वहीं जिनके पास सत्ता है उनके पास गए बिना संघर्ष करनेवालों के पास आना ही सच्ची मर्दानगी है, ऐसे शब्दों में उद्धव ठाकरे ने शामिल हुए लोगों की प्रशंसा भी की। इस दौरान मार्गदर्शन करते हुए उद्धव ठाकरे ने भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला। हम हिंदू हैं, ऐसा गर्व से कहनेवाले कुछ लोग हिंदू और हिंदुत्व में भेदभाव कर रहे हैं ऐसा तंज भी उद्धव ठाकरे ने कसा।

 

अन्य समाचार