मुख्यपृष्ठनए समाचारथर्टी फर्स्ट के स्वागत पर सरकारी प्रतिबंधों का साया ...निषेधाज्ञा हुई लागू

थर्टी फर्स्ट के स्वागत पर सरकारी प्रतिबंधों का साया …निषेधाज्ञा हुई लागू

पटाखों और लाउडस्पीकर पर प्रतिबंध
रात एक बजे तक खुली रहेंगी शराब की दुकानें
सामना संवाददाता/ मुंबई
मुंबईकर ३१ दिसंबर की रात पार्टी करने और गेटवे ऑफ इंडिया व चौपाटी पर नए साल का स्वागत करने का इंतजार कर रहे हैं। इन सबके बीच लोगों के लिए मायूसी भरी खबर सामने आई है। पुलिस ने पांच जनवरी तक मुंबई में निषेधाज्ञा लागू कर दी है। इसके अलावा लाउडस्पीकर, बैंड और पटाखे फोड़ने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। इससे मुंबईकरों का उत्साह डाउन हो सकता है। वहीं शराब की दुकानों को आधी रात तक खुला रखने की इजाजत दी गई है। इतना ही नहीं बार परमिट रूम भी सुबह पांच बजे तक चलते रहेंगे।
मुंबई इस वक्त ३१ दिसंबर को एंजॉय करने के मूड में है। रविवार को नये साल के स्वागत की योजना बनायी जा रही है। कुछ लोगों ने छत पर, कुछ ने रिसॉर्ट्स, रेस्तरां में और कई लोगों ने घर पर ही अपने परिवार के साथ नए साल का स्वागत करने की योजना बनाई है। नए साल का स्वागत करने के लिए कई जगहों पर आधी रात को पटाखे फोड़े जाते हैं, लेकिन पटाखे फोड़ना प्रतिबंधित कर दिया है।
मुंबई में नया साल मनाने के लिए मुंबईकर पूरी तरह से उत्साह में हैं। रविवार को नए साल का स्वागत करने के लिए योजना बनाई है। कुछ लोगों ने छतों पर, कुछ ने रिसॉर्ट्स, रेस्तरां में और कई लोगों ने घर पर ही अपने परिवार के साथ नए साल का स्वागत करने की योजना बनाई है। नए साल का स्वागत करने के लिए कई जगहों पर आधी रात को पटाखे फोड़े जाते हैं। लेकिन इस साल पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। एक तरफ राज्य की जनता को खुश करने के लिए बीयर बार, परमिट रूम को सुबह ५ बजे तक चालू रखने की इजाजत दे दी गई है। इसके साथ ही सरकार ने शराब की दुकानों को आधी रात तक खुली रखने की इजाजत दे दी है। हालांकि मुंबई की सीमा में ५ जनवरी तक सभाओं पर प्रतिबंध लागू कर दिया गया है। इस आदेश के मुताबिक, पांच या उससे अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने पर रोक रहेगी। जुलूस निकालना, लाउडस्पीकर, संगीत वाद्ययंत्र, बैंड और पटाखे फोड़ना प्रतिबंधित किया गया है।

अन्य समाचार