मुख्यपृष्ठसमाचार‘समृद्धि’ का सितारा बुलंद! १५ अगस्त से हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे समृद्धि मार्ग...

‘समृद्धि’ का सितारा बुलंद! १५ अगस्त से हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे समृद्धि मार्ग की होगी शुरुआत

  • नागपुर से शिरडी के ४८० किमी के कॉरिडोर पर रफ्तार भरेगी कार

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई से नागपुर को जोड़नेवाला हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे महाराष्ट्र समृद्धि महामार्ग का सितारा आगामी १५ अगस्त से बुलंद होनेवाला है। इस परियोजना के पहले चरण का काम पूरा हो गया है और इस दिन इस महामार्ग की शुरुआत होनेवाली है।
स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नागपुर से शिरडी तक समृद्धि महामार्ग के पहले चरण की शुरुआत होगी। इसके शुरू होने पर पहले चरण के ४८० किमी के कॉरिडोर पर कारें रफ्तार भरेंगी। महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम के प्रबंध निदेशक और महानिदेशक (वॉर रूम, इंफ्रास्ट्रक्चर  प्रोजेक्ट्स) राधेश्याम मोपलवार ने इसकी जानकारी दी।
मई २०२३ में शुरू होगा पूरा कॉरिडोर
महाराष्ट्र स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (एमएसआरडीसी) के मुताबिक परियोजना का पहला चरण पूरा हो गया है। यह शिरडी से नागपुर तक ४८० किमी के क्षेत्र में फैला  है। १५ अगस्त को इसका उद्घाटन किया जाएगा। इस कॉरिडोर पर सुरक्षा के लिहाज से एंबुलेंस सेवाएं तैनात की गई हैं। इसके साथ ही टोल कलेक्शन सिस्टम, पेट्रोल पंप, सब कुछ तैयार हो गया है। योजना के मुताबिक अगले साल मई के अंत तक पूरे ७०० किलोमीटर के हिस्से को पूरा करने का लक्ष्य है। इसके बाद पूरा कॉरिडोर यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।
किमी के हिसाब से होगा टोल
महाराष्ट्र सरकार की २००८ की अधिसूचना के अनुसार, एक फॉर्मूला दिया गया है, जिसके अनुसार १.७२ रुपए प्रति किमी की दर से वाहन चालकों से टोल शुल्क लिया जाएगा। महामार्ग को १५० किमी तक की गति के लिए डिजाइन किया गया है, परंतु १२० किमी प्रति घंटा की रफ्तार से वाहनों को चलाने की अनुमति संबंधित विभाग से मिली है।
शुरुआत में २५,००० वाहनों का अनुमान
इस महामार्ग पर पहले वर्ष के लिए प्रतिदिन २५,००० वाहनों के आवागमन का अनुमान लगाया जा रहा है। एक बार जब यह मार्ग भिवंडी से जुड़ जाएगा तो वाहनों की संख्या प्रतिदिन १ लाख से अधिक हो जाएगी। मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे जब शुरू हुआ तो प्रतिदिन दैनिक वाहनों की संख्या १५,००० थी, जो मौजूदा समय में १.२५ लाख है।

अन्य समाचार