मुख्यपृष्ठखबरेंजंगल राज की तरह हो गई महाराष्ट्र की स्थिति! ...कानून-व्यवस्था का हुआ...

जंगल राज की तरह हो गई महाराष्ट्र की स्थिति! …कानून-व्यवस्था का हुआ तीन तेरह

•  गृहमंत्री के नागपुर में बढ़ा अपराध का ग्राफ
• नशीली दवाओं की खुली बिक्री

सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य में कानून व्यवस्था की समस्या गंभीर हो गई है। महाराष्ट्र की स्थिति जंगल राज कहे जाने वाले राज्यों जैसी हो गई है। महिलाओं से दुर्व्यवहार, बलात्कार, अपहरण, हत्या, नशे का कारोबार खुलेआम चल रहा है। नागपुर, पुणे, मुंबई शहरों में भी बड़ी संख्या में अवैध बंदूकें पाई गई हैं। गृहमंत्री का पुलिस प्रशासन पर कोई नियंत्रण नहीं है और अपराधी बेलगाम हैं। महाराष्ट्र में कानून-व्यवस्था की तीन तेरह हो गई है, इस तरह का गंभीर आरोप महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने विधानसभा में अंतिम सप्ताह पर बोलते हुए सरकार पर लगाया।
अंतिम सप्ताह प्रस्ताव पर बोलते हुए कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष ने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला और कहा कि महाराष्ट्र में अब कानून का राज नहीं है। नागपुर वह शहर है, जहां के गृहमंत्री हैं, उसी शहर में अपराध में भारी वृद्धि हुई है, लेकिन अपराध सुलझाने का अनुपात कम है। ऑनलाइन लॉटरी और नकली लॉटरी बड़े पैमाने पर चल रही है। इससे कई जिंदगियां बर्बाद हो चुकी हैं, कई लोगों ने लॉटरी में पैसे खोने के कारण आत्महत्या कर ली है। अन्य राज्यों से अवैध शराब का आवागमन और बिक्री काफी हद तक बढ़ गई है। पनीर, दूध और मावा उत्पादों में मिलावट रोकने में असफलता मिली है। अवैध निर्माण और भ्रष्टाचार में वृद्धि हुई है।
राज्य में प्रतिबंध के बावजूद गुटखा और तंबाकू की बिक्री जारी है। ड्रग्स, चरस, गांजा खूब बिक रहा है। गुजरात राज्य से बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं आती हैं, इस पर कोई नियंत्रण नहीं है। मुंबई में बलात्कार के ४,००० से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। पुणे में २१०, मुंबई में २७४ और नागपुर में ५५७ अवैध बंदूकें मिलीं। ये आंकड़े सरकार के हैं, ये सिर्फ अभियोजन का सवाल नहीं है बल्कि ये राज्य के कानून के मुताबिक होना चाहिए। इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि सरकार की लापरवाही के कारण राज्य में अपराध बढ़े हैं, ऐसा पटोले ने कहा।
भाजपा का ड्राफ्ट था शिंदे का भाषण
विधानसभा में आरक्षण पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के भाषण को बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा दिया गया मसौदा बताते हुए महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने शिंदे पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि आरक्षण के मुद्दे पर मुख्यमंत्री शिंदे ने सदन में वही बयान दिया है, जो आरएसएस और भाजपा ने तैयार किया था।

 

अन्य समाचार